जास, रांची : मार्च में शुरू हुए कोरोना संक्रमण ने अभी तक जहां हर त्योहार को फीका कर दिया। वहीं नवरात्र से पहले कंपनियों ने ग्राहकों के बीच लुभावने ऑफर पेश करते हुए बाजार में रंगत लाने की कोशिश शुरू कर दी है। इसके कारण दशहरा में एक बार फिर से बाजार गुलजार हो गया। ग्राहकों की भीड़ से व्यापारियों के चेहरे पर रौनक है। स्थानीय बाजारों के साथ थोक बाजार अपर बाजार में भी ग्राहकों की भीड़ दिन में देखने को मिल रही है। लोग पूजा पाठ और घर की सजावट के सामान के साथ त्योहार के लिए अन्य चीजों की भी जमकर खरीदारी कर रहे हैं। हालांकि पंडाल और मेला न लगने के आदेश का आंशिक असर कपड़ा व्यापार पर पड़ा है। मगर इलेक्ट्रोनिक सहित अन्य सामानों की खरीदारी करने से व्यापारियों के चेहरे पर चमक है। व्यापारी इसे लॉकडाउन में हुए नुकसान की भरपाई के रूप में देख रहे हैं। पांच दिनों में रांची की सड़कों पर उतरी 500 बाइक:

दशहरा में आटोमोबाइल सेक्टर ने सबसे तेज रफ्तार पकड़ी है। पिछले पांच दिनों में रांची की सड़कों पर पांच सौ से ज्यादा नई टू व्हीलर उतरी हैं। व्यापारियों के अनुसार अभी महीने के अंत तक 1700 से ज्यादा बाइक की बिक्री होगी। कोकर सीमा सुजुकी के मालिक अभिषेक ने बताया कि ज्यादातर ग्राहक अपनी बाइक फाइनेंस की सुविधा पर ले रहे हैं। इसके साथ ही कंपनी की तरफ से मिलने वाले आफर का भी लाभ ले रहे हैं। उन्होंने बताया कि बाजार में अभी से दिवाली के लिए ग्राहकों ने बुकिग भी शुरू कर दी है। ग्राहकों के लिए सुरक्षा है जरूरी:

बाजार में ग्राहकों की भीड़ से व्यापार में तो तेजी आयी है। मगर संक्रमण का खतरा भी काफी बढ़ गया है। ऐसे में बाजार में निकलने वाले ग्राहकों को अपनी सुरक्षा का विशेष ध्यान रखने की जरूरत है। बिना मास्क और सैनिटाइजर के बाजार न जाएं और दुकानों में भीड़ न लगाए। हालांकि दुकानदारों की भी जिम्मेदारी है कि वो अपना उत्पाद बेचने के साथ ग्राहकों के साथ अपनी सुरक्षा को नजरअंदाज न करें।

Edited By: Jagran