मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

रांची, राज्य ब्यूरो। District Development Coordination and Monitoring Committee - सरकार ने 17वीं लोकसभा के लिए जिला विकास समन्वय व निगरानी समिति (डीडीसीएमसी) (अब दिशा) के अध्यक्ष और उपाध्यक्षों के नामों की घोषणा कर दी है। खूंटी के नवनिर्वाचित सांसद सह जनजातीय मामलों के केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा को सर्वाधिक छह जिलों की कमान सौंपी गई है। इससे इतर अन्य सांसदों को एक अथवा एक से अधिक जिलों की जवाबदेही सौंपी गई है। समिति के सदस्य हर तीसरे महीने बैठक कर जिला के समेकित विकास का खाका तैयार करेंगे।
अर्जुन मुंडा को जिन छह जिलों की कमान सौंपी गई है, उसमें रांची सहित सिमडेगा, सरायकेला-खरसावां, पश्चिमी सिंहभूम, गुमला और खूंटी शामिल है। सुदर्शन भगत, संजय सेठ, गीता कोड़ा अपने-अपने लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से संबद्ध जिलों मेंं दिशा के लिए बतौर उपाध्यक्ष अर्जुन मुंडा का साथ देंगे। इससे इतर, विजय कुमार हांसदा साहिबगंज, सुनील कुमार सिंह को चतरा, विद्युत वरण महतो को पूर्वी सिंहभूम, सुनील सोरेन को जामताड़ा, अन्नपूर्णा देवी को कोडरमा, सुनील कुमार सिंह को लातेहार, सुदर्शन भगत को लोहरदगा, विजय कुमार हांसदा को पाकुड़, विष्णु दयाल राम को गढ़वा तथा जयंत सिन्हा को बतौर अध्यक्ष रामगढ़ की जवाबदेही सौंपी गई है।
इसी तरह, पशुपति नाथ सिंह को बतौर अध्यक्ष तथा सीपी चौधरी को बतौर उपाध्यक्ष बोकारो और धनबाद का जिम्मा दिया गया है। इसी कड़ी में, निशिकांत दुबे और सुनील सोरेन को देवघर, सुनील सोरेन और निशिकांत दुबे को दुमका, सीपी चौधरी और अन्नपूर्णा देवी को गिरिडीह, निशिकांत दुबे और विजय कुमार हांसदा को गोड्डा, जयंत सिन्हा और अन्नपूर्णा देवी को हजारीबाग तथा विष्णुदयाल राम तथा सुनील कुमार सिंह को बतौर अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पलामू के विकास की जवाबदेही सौंपी गई है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sujeet Kumar Suman

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप