रांची, जेएनएन। Dhara 144 in Jharkhand झारखंड के हजारीबाग के इचाक में जिला प्रशासन ने अगले आदेश तक धारा 144 लागू कर दिया है। इचाक में पढ़ाई करने जा रही छात्राओं पर पत्थरबाजी को लेकर तनाव का माहौल है। प्रशासन ने सख्‍ती बरतते हुए धारा 144 लगाया है ताकि माहौल न बिगड़े। हजारीबाग संवाददाता के अनुसार, इचाक में दो दिन पहले परीक्षा देकर घर लौट रही बेटियों पर पत्थरबाजी की गई। खबर फैलते ही इचाक में तनाव व्‍याप्‍त हो गया। हालांकि प्रशासन ने सुझबूझ का सहारा लेते हुए तुरंत ही पूरे इलाके में धारा 144 लागू करते हुए पथराव करने वालों की धर पकड़ तेज कर दी। बजरंग दल, श्री राम सेना, सामाजिक समरसता मंच, आदर्श युवा संगठन व अन्य विभिन्न सामाजिक संगठनों ने इस घटना पर तीखा विरोध जताया है।

बताया गया कि 27 जून की शाम को मोदी पोखर मोहल्‍ला के समीप परीक्षा देकर आटो से लौटने वाली छात्राओं पर पत्थरबाजी करने वाले छह युवकों के हाथों में पुलिस ने हथकड़ी पहना दी है। सभी को जेल भेज दिया गया है। इचाक थाना की पुलिस ने बुधवार को उर्दू मकतब विद्यालय के पास परीक्षा देकर लौट रही छात्राओं से भरी ऑटो पर पत्थर बरसाने के मामले में छह युवकों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। वहीं 34 अन्य अज्ञात की तलाश तेज कर दी गई है। इस मामले में तीन युवकों को पुलिस ने प्राथमिक अभियुक्त बनाते हुए 40 अज्ञात मनचलों के खिलाफ इचाक थाना में केस दर्ज किया है। पुलिस ने 3 प्राथमिक अभियुक्त और 3 अप्राथमिक अभियुक्तों समेत कुल छह युवकों को गिरफ्तार कर बुधवार को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया।

पुलिस ने इन्हें भेजा जेल (सभी पुराना इचाक, दर्जी मोहल्ला निवासी)

  1. मोहम्मद अमान
  2. शम्मी मलिक
  3. आफान मलिक उर्फ अरफन मलिक
  4. मोहम्मद रजा
  5. मोहम्मद नवाजिश
  6. नजीर आलम 

एससी/एसटी एक्‍ट में दर्ज की गई है प्राथमिकी

इचाक थाना में आलोंजा गांव की छात्राओं ने मुस्लिम युवकों पर जातिसूचक शब्द कहने ,पढ़ाई में बाधा डालने, मारपीट करने, गालियां देने तथा धर्म विशेष पर गंदी टिप्पणी करने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया है। इचाक थाना के थानेदार प्रशिक्षु आइपीएस ऋषभ गर्ग ने बताया कि 34 अज्ञात अभियुक्तों पर दबिश दी जा रही है। आरोपितों की धरपकड़ के लिए छापेमारी तेज कर दी गई है।

Edited By: Alok Shahi