खास बातें

  • डीजीपी ने मुख्य न्यायाधीश को लॉ की छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म पर दी रिपोर्ट
  • बताया कांके में लॉ की छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म मामले में अनुसंधान लगभग पूरा
  • सभी आरोपित हो चुके हैं गिरफ्तार, मेडिकल जांच, फोरेंसिक साक्ष्य भी जुटाए गए
  • फोरेंसिक रिपोर्ट मिलते ही आरोप पत्र दाखिल कर न्यायालय से प्राथमिकता के आधार पर सुनवाई का आग्रह करेगी पुलिस

रांची, राज्य ब्यूरो। कांके थाना क्षेत्र में दो दिन पूर्व हुई लॉ की छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म की घटना व उसके बाद अब तक हुई पुलिस की कार्रवाई के संबंध में डीजीपी कमल नयन चौबे ने मुख्य न्यायाधीश डॉ. रवि रंजन को विस्तार से बताया। उन्होंने शुक्रवार को मुख्य न्यायाधीश से मिलकर इस घटना के संबंध में पूरी जानकारी दी है। पिस्तौल का भय दिखा कर घटना को अंजाम देनेवाले के सभी आरोपित 12 घंटे के भीतर दबोच लिए गए हैं। पुलिस का अनुसंधान करीब 80 फीसद पूरा कर लिया गया है। 

जानकारी के अनुसार मुख्य न्यायाधीश डॉ. रवि रंजन को बताया गया कि घटना में शामिल सभी आरोपित दबोचे जा चुके हैं। घटना में प्रयुक्त गाडिय़ां पकड़ी जा चुकी हैं। पीडि़ता की मेडिकल जांच करवाई जा चुकी है। सभी आरोपितों की मेडिकल जांच भी करवा दी गई है। अब आरोपितों की पहचान परेड व फोरेंसिक रिपोर्ट कराना बाकी है। फोरेंसिक रिपोर्ट आने के बाद पुलिस आरोपितों के विरुद्ध आरोप पत्र दाखिल करेगी।

डीजीपी ने बताया कि अनुसंधान लगभग पूरा हो चुका है। फोरेंसिक रिपोर्ट मिलने के बाद आरोप पत्र दाखिल कर प्राथमिकता के आधार पर सुनवाई (स्पीडी ट्रायल) के लिए न्यायालय से आग्रह किया जाएगा। इस घटना के आरोपितों के विरुद्ध पर्याप्त साक्ष्य के साथ पुलिस न्यायालय जाएगी, ताकि उन्हें कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जा सके।

Posted By: Alok Shahi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस