रांची, राज्य ब्यूरो। Delhi Nizamuddin Markaz नई दिल्ली के निजामुद्​दीन में तब्लीगी जमात (धार्मिक सम्मेलन) के बाद लगातार हो रही कोरोना पीड़ितों व मृतकों की सूचना ने पूरे देश में खलबली मचा दी है। इस सम्मेलन में झारखंड के 36 लोगों के शामिल होने की पूरी जानकारी के साथ नई दिल्ली ने झारखंड सरकार को सूची सौंपी है, जिसका पुलिस सत्यापन पूरा हो गया है। इस सूची में झारखंड सरकार के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री हाजी हुसैन अंसारी के बेटे मोहम्मद तनवीर का भी नाम है।

पुलिस मुख्यालय की विशेष शाखा से सूची मिलने के बाद देवघर पुलिस तनवीर के घर पहुंची और तनवीर को क्वारेंटाइन कर दिया। उनके सैंपल को जांच के लिए रिम्स में भेज दिया गया है। पूछताछ में मोहम्मद तनवीर ने जमात में शामिल होने से इंकार किया है। मंत्री हाजी हुसैन असांरी व उनका पूरा परिवार क्वारंटाइन कर दिया गया है। इधर, जमात में शामिल राज्य के प्रत्येक जिले के सभी 36 लोगों का सत्यापन कार्य पूरा हो गया है। सभी को क्वारंटाइन कर दिया गया है और सभी के सैंपल जांच के लिए भेज दिए गए हैं।

पुलिस की पूछताछ में अधिकतर ने बताया कि वे निजामुद्​दीन में तब्लीगी जमात में शामिल होने नहीं गए थे। ऐसे लोगों को पुलिस ने जवाब दिया कि उन्हें जो सूची मिली है, वह नई दिल्ली से मिली है। अगर वे तब्लीगी जमात में शामिल होने नहीं गए थे तो उनका नाम सूची में कैसे आ गया। गौरतलब है कि पुलिस मुख्यालय ने एक दिन पूर्व ही सभी जिलों के एसएसपी-एसपी को सभी 36 लोगों की सूची भेजते हुए यह निर्देश दिया था कि पिछले सात दिनों के भीतर नई दिल्ली के निजामुद्​दीन में तब्लीगी जमात में शामिल होकर लौटने वाले इन व्यक्तियों का पता लगाएं और उनकी जांच कराएं।

दिल्‍ली के उस कार्यक्रम में बड़े पैमाने पर कोरोना के संक्रमण की बात सामने आई है, इसलिए उक्त कार्यक्रम में शामिल होने वालों की जांच बेहद जरूरी है। इसके साथ ही उन सभी लोगाें पर निगरानी रखने और विशेष सतर्कता बरतने की बात कही गई है। यह भी पता लगाने को कहा गया है ये 36 व्यक्ति और किस-किससे मिले हैं, इसका भी पता लगाएं।

नई दिल्ली से लौटकर जिलों में भी कराया जमात

झारखंड पुलिस को गुप्त सूचना मिली है कि नई दिल्ली के निजामुद्​दीन में तब्लीगी जमात से लौटने के बाद झारखंड के लोगों ने अपने-अपने जिलों में भी जमात करवाया है। सूचना है कि देवघर जिले के मोहम्मद अब्बास जमात से लौटने के बाद दुमका में भी जमात करवा चुका है। अब पुलिस दुमका वाले जमात में शामिल लोगों के बारे में भी जानकारी जुटा रही है।

Posted By: Alok Shahi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस