रांची, राज्‍य ब्‍यूरो। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद से जुड़े चारा घोटाला के सबसे बड़े मामले में मंगलवार को बचाव पक्ष की ओर से बहस शुरू कर दी गई। इस दौरान फिजिकल कोर्ट में चारा घोटाले के आरोपित फूलचंद सिंह की ओर से उनके अधिवक्ता ने बहस की। इस दौरान उनकी ओर से कहा गया कि लगाए गए आरोप गलत हैं। उनकी ओर से अदालत में कुछ दस्तावेज भी पेश किए गए। फूलचंद लालू प्रसाद की सरकार में वित्त सचिव थे।

सीबीआइ के विशेष न्यायाधीश एसके शशि की अदालत में चारा घोटाला मामले की सुनवाई अब सप्ताह में तीन दिन फिजिकल कोर्ट में होगी। अदालत के निर्देश पर गुरुवार को दिन के 11.30 बजे मामले में सुनवाई होगी। मंगलवार और शनिवार को अपराह्न ढाई बजे मामले की सुनवाई होगी। लालू प्रसाद के अधिवक्ता की मानें तो अगले माह से इस मामले में उनकी ओर से बहस शुरू हो सकती है।

बता दें कि डोरंडा कोषागार से 139.35 करोड़ रुपये की अवैध निकासी से जुड़े मामले में सीबीआइ की ओर से सात अगस्त को बहस पूरी कर ली गई थी। इसके बाद बचाव पक्ष की ओर से बहस शुरू की गई है। मामले में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद, पूर्व सांसद जगदीश शर्मा, डाॅ. आरके राणा, पीएसी के तत्कालीन अध्यक्ष ध्रुव भगत, तत्कालीन पशुपालन सचिव बेक जूलियस समेत 112 आरोपी मुकदमे का सामना कर रहे हैं।

Edited By: Sujeet Kumar Suman