रांची, जेएनएन। Coronavirus Lockdown लॉक डाउन को लेकर पुलिस की तमाम कोशिशें रंग ला रही हैं। सख्‍ती के असर से अब सोशल डिस्‍टेंसिंग साफ नजर आ रही है। झारखंड में लगभग सभी जिलों में जहां डीसी की अगुआई में जरूरतमंदों को सामान की होम डिलिवरी की सुविधा दी जा रही है, वहीं बाहर से आने वाले कामगारों को स्‍वास्‍थ्‍य जांच के बाद सुरक्षित उनके घर तक पहुंचाया जा रहा है। कुछ जगहों पर पुलिस की सघन चेकिंग के चलते वजह-बेवजह घर से निकलने वाले लोगों की क्‍लास भी लग रही है। आरजू-मिन्‍नत और चिरौरी के बीच शाेहदों को बीच सड़क पर उठ‍क-बैठक करते भी देखा जा सकता है।

कोरोना वायरस पर रोकथाम के लिए हर जिले में कंट्रोल रूम, देखें अपने जिले का नंबर

नूरी मस्जिद में जुमा की नमाज में शरीक होंगे महज पांच नमाजी

पलामू जिला मुख्यालय मेदिनीनगर स्थित कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए देश लाक डाउन है। लोगों के बीच सोशल डिस्टेंस का भी सख्ती से पालन करना है। इस उद्देश्य से स्थानीय गौसिया मुहल्ला स्थित नूरी मस्जिद इंतजामिया कमेटी ने बड़ा फैसला लिया है। शुक्रवार को जुमे की नमाज सामूहिक रूप से नूरी मस्जिद में अदा नहीं की जाएगी। इस बीच महज पांच लोग ही नमाज अदा करेंगे।  गुरूवार को मस्जिद परिसर में मस्जिद के इंतेजामिया कमेटी की बैठक में उक्त फैसला लिया गया। बैठक में कोरोना संक्रमण के बचाव पर चर्चा हुई। इसके बात तय पाया कि नूरी मस्जिद में जुमा की नमाज में पांच लोग शिरकत करेंगे। इसमें पेश इमाम, मोअज्जिन समेत हाजी मुमताज, हाफिज अब्दुर्रज्जाक और मुस्तकीम शामिल होंगे। मौके पर हाजी ग्यासुद्दीन, मौलाना महताब आलम जेयाई, मो मंजूर आदि उपस्थित थे। बैठक में सोशल डिस्टेंस का ख्याल रखा गया। एक मीटर की दूरी पर लोग बैठे थे।

सभी जिलों के लिए झारखंड पुलिस ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर

Posted By: Alok Shahi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस