रांची, जेएनएन। Coronavirus Lockdown क्‍या 14 अप्रैल को लॉक डाउन खत्‍म हो जाएगा? छोटे-बड़े, अमीर-गरीब, हम सबके-हर तबके के मन में बस एक ही सवाल है। हर कोई यही जानना चाहता है कि क्‍या इस दिन लॉक डाउन वापस हो जाएगा, क्‍या वे पहले की तरह फिर से सामान्‍य जनजीवन जीने लगेंगे? हालांकि देश-राज्‍य के ताजा सूरत-ए-हाल को देखकर ऐसा लग तो नहीं रहा और न ही इस बारे में कोई आधिकारिक जानकारी अब तक निकलकर सामने आई है। लगातार बिगड़ रहे हालातों के बीच कोरोना वायरस महामारी के देश-राज्‍य में लगातार बढ़ते मामले और व्‍यापक फैलाव को लेकर इसकी संभावना कमतर दिख रही है। लेकिन आने वाले दिनों में केंद्र सरकार से पाबंदियों में कटौती और कुछ विशेष रियायतों की अपेक्षा की जा सकती है।

दिल्‍ली, महाराष्‍ट्र, उत्‍तर प्रदेश, बिहार और मध्‍य प्रदेश में बहुतेरे कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की पहचान के बाद झारखंड में भी अब कोरोना का कहर टूट रहा है। प्रदेश में अब तक चार मामलों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। ऐसे में पिछले 13 दिनों से घरों में कैद जनमानस अपनी सुरक्षा को लेकर खासा फिक्रमंद है। भले लॉक डाउन खुलने की अभी संभावना नहीं हो, लेकिन लोग अपनी जिंदगी से खिलवाड़ कतई नहीं करना चाहते। किसी भी कीमत पर वे अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा और बेहतर स्‍वास्‍थ्‍य चाहते हैं। जान की कीमत पर वे घरों से निकलना नहीं चाहते।

लॉक डाउन हटने की उम्‍मीदों को बल, रेलवे ने 14 अप्रैल के बाद शुरू की बुकिंग

भारतभर में लॉक डाउन के बाद से भारतीय रेल ने अपनी यात्री सेवाएं पूर्णत: बंद कर रखी है। हालांकि बीते कुछ दिनों से 14 अप्रैल, लॉक डाउन पीरियड के बाद की यात्रा के लिए टिकटों की ऑनलाइन बुकिंग चालू है। ऐसे में लॉक डाउन हटने की उम्‍मीदों को बल मिल रहा है। बताया जा रहा है कि लॉक डाउन नहीं हटने पर ये टिकट स्‍वत: रद हो जाएंगे। यात्रियों को टिकट के पैसे की वापसी संबद्ध अकाउंट में कर दी जाएगी। अब अगर ट्रेन परिचालन शुरू होता है तो पैसेंजर ट्रेनों के बजाय लंबी दूरी की मेल/एक्‍सप्रेस ट्रेनों का परिचालन प्राथमिकता के आधार पर किया जा सकता है।

इससे पहले शनिवार को इंडियन रेलवे की ओर से बयान जारी कर कहा गया था कि यात्री ट्रेनें बहाल करने पर अंतिम फैसला नहीं लिया गया है, लेकिन रेलवे के सभी जोन को ट्रेनों के परिचालन को लेकर अलर्ट किया गया है। रेल मंत्री और रेलवे बोर्ड के चेयरमैन की बैठक में यह फैसला किया गया है कि रेलवे की यात्री ट्रेन सेवाएं पूरे देश में चरणबद्ध तरीके से बहाल की जाएंगी। यहां ट्रेन सेवा बहाल होने के दौरान सभी यात्रियों की थर्मल स्‍कैनिंग आदि की व्‍यवस्‍था भी की जाएगी। सरकार के सभी प्रोटोकॉल और एडवाइजरी का सौ फीसद अनुपालन सुनिश्चित कर ही रेल परिचालन बहाल किया जाना है।

देशभर में अब तक कोरोना से 109 लोगों की मौत

ताजा जानकारी के मुताबिक देशभर में अब तक कोरोना वायरस के संक्रमण से 109 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि 4067 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इनमें 291 लोग कोरोना से लड़कर जिंदगी की लड़ाई जीत चुके हैं। बीते 24 घंटों में देश के अलग-अलग राज्‍यों में कोरोना संक्रमण के कुल 693 मामले सामने आए हैं, जिन्‍हें टेस्‍ट में पॉजिटिव पाए जाने के बाद कोविड19 वार्ड, आइसोलेशन में भर्ती कराया गया है। बताया गया है कि कोरोना वायरस से संक्रमित होने वाले मरीजों में 76 फीसद मामले पुरुष से जुड़े हैं, जबकि 24 फीसद महिलाएं कोरोना की चपेट में आई हैं। भारत में कोरोना वायरस फैलाने के लिए जिम्‍मेदार माने जा रहे तब्‍लीगी जमात के 1445 लोगों की पहचान की गई है, जो जांच में कोरोना पॉजिटिव निकले हैं।

झारखंड में अब तक कोरोना के चार मरीजों की पहचान, तीन महिलाएं

झारखंड की बात करें तो सोमवार तक यहां कोरोना वायरस से संक्रमित चार मरीजों की पहचान की जा चुकी है। इनमें तीन महिलाएं शामिल हैं। जबकि तब्‍लीगी जमात से जुड़ाव वाले दो मरीज भी संक्रमित पाए गए हैं। रांची के हिंदपीढ़ी मस्जिद से पकड़ी गई इं‍डोनेशिया की महिला तब्‍लीगी जमात से जुड़ी है, जिसमें सबसे पहले कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई। इसके बाद बीते दिन उसके संपर्क में आई एक और महिला कोराेना पॉजिटिव पाई गई। एक मामला हजारीबाग में मिला है। जबकि एक मामला बोकारो से जुड़ा है।  इन सभी चार मरीजों को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद आइसोलेट किया गया है। इन सभी को अस्‍पताल में भर्ती कर इलाज किया जा रहा है।

Posted By: Alok Shahi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस