रांची, जासं। कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। पहले सुप्रीम कोर्ट ने चौकीदार के नाम पर अवमानना नोटिस दिया, अब रांची की एक अदालत में सारे चाेर का नाम मोदी क्‍यों वाले बयान पर मुकदमा दर्ज किया है। राहुल गांधी के इस बयान को लेकर न्यायिक दंडाधिकारी कुमार विपुल की अदालत मे शिकायतवाद दर्ज कराया गया है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ अदालत में दर्ज शिकायत पर कार्यवाही शुरू हो गई है। यह शिकायत मोदी कंपाउंड निवासी प्रमोद मोदी ने दर्ज कराई है। बुधवार को शिकायतकर्ता ने न्यायिक दंडाधिकारी कुमार विपुल की अदालत में शपथ पत्र पर अपना बयान दर्ज कराया। राहुल गांधी पर 20 करोड़ रुपये के मानहानि का भी दावा किया है।

शिकायतकर्ता के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बहाने कांग्रेस अध्यक्ष पूरे मोदी समाज को निशाना बना रहे हैं। मोदी समाज के खिलाफ आपत्तिजनक बयान दिया जा रहा है। अदालत में शिकायतकर्ता की ओर से सुबूत के तौर पर अखबार की कुछ कटिंग पेश की गई है, जिसमें कांग्रेस अध्यक्ष का बयान छपा है। इस मामले में अब अगली सुनवाई 29 अप्रैल को होगी।
शपथ पत्र में रांची व कर्नाटक भाषण का जिक्र
शपथ पत्र में कांग्रेस अध्यक्ष के तीन मार्च को रांची में दिए भाषण का जिक्र किया गया है। शिकायतकर्ता के अनुसार रांची के मोरहाबादी में उलगुलान रैली में भाषण के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा था कि देश का चौकीदार चोर है। इस दौरान उन्होंने नीरव मोदी, ललित मोदी आदि का भी नाम लेते हुए आपत्तिजनक बातें कही थी। वहीं, कुछ दिन बाद 13 अप्रैल को कर्नाटक में इसी प्रकार का बयान दिया था।
राहुल के बयान से हुई पीड़ा
शिकायतकर्ता ने अदालत को बताया कि कांग्रेस अध्यक्ष के इस तरह के बयान से पूरा मोदी समाज अपमानित महसूस कर रहा है। मुझे खुद पीड़ा हुई है। इस मामले में राहुल गांधी को नोटिस भेजकर मांफी मांगने को कहा था, लेकिन नोटिस लौटा दी गई।

चुनाव की विस्तृत जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Alok Shahi