रांची, जेएनएन। झारखंड की राजधानी रांची के इटकी स्थित मलटी गांव में शनिवार की रात सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की साजिश की गई। जिसे इलाके के अमनपसंदों और पुलिस की सूझबूझ से नाकाम कर दिया गया। दरअसल इटकी के मलटी गांव में बनाए गए स्पीड ब्रेकर को एक समुदाय के कुछ युवक तोड़कर हटा रहे थे। उसी दौरान दूसरे समुदाय के युवकों ने रोका। इसके बाद दोनों पक्षों के बीच मारपीट हो गई।

  • दोनों ओर से जमकर पथराव, एसआई सहित दोनों ओर से आधा दर्जन घायल
  • मामूली विवाद को दिया गया सांप्रदायिक रंग, अमनपसंदों ने संभाला माहौल
  • मलटी गांव पुलिस छावनी में तब्दील, स्थिति नियंत्रण में

मारपीट और कहासुनी को दोनों समुदाय के कुछ बदमाशों ने सांप्रदायिक रंग दे दिया। इसके बाद दोनों समुदाय के लोग आमने-सामने आए गए। दोनों ओर से लाठी-डंडे चले। पथराव शुरू हो गया। दोनों ओर से धार्मिक नारेबाजी भी हुई। झड़प में इटकी थाने के एएसआई वाहीद अंसारी सहित दोनों ओर से करीब आधा दर्जन लोग घायल हुए हैं। सभी घायलों को इलाज के लिए रिम्स भेज दिया गया है।

घटना की सूचना मिलते ही मौके पर इटकी, नगड़ी, बेड़ो सहित कई थानों की पुलिस पहुंच गई। मौके पर ग्रामीण एसपी आशुतोष शेखर, बेड़ो डीएसपी संजय कुमार सहित अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। बड़ी संख्या में गांव में पुलिस बलों की तैनाती की गई है। मलटी गांव पुलिस छावनी में तब्दील हो गया है।

गांव में पुलिस लगा रही गश्त

घटना के बाद पुलिस पूरे गांव में गश्त लगा रही है। हर गली तक पुलिस पहुंची। गली मोहल्लों की स्थिति तनावपूर्ण है। हालांकि मामला पूरी तरह से पुलिस के नियंत्रण में है। मौके पर ग्रामीण एसपी, बेड़ो डीएसपी सहित कई अधिकारी कैंप कर रहे हैं।

सर्व धर्म सदभावना समिति ने की पहल

घटना के बाद सर्व धर्म सदभावना समिति ने शांति की पहल की। समिति के सदस्यों ने पुलिस-प्रशासन के साथ मिलकर लोगों को समझाया। इसके बाद ऐसी घटना की पुनरावृत्ति न हो, इसके लिए समझाया गया। वहीं रविवार की सुबह इटकी थाने में शांति समिति की बैठक भी बुलाई गई। मौके पर समिति के अध्यक्ष  जिप सदस्य लाल रामेश्वर नाथ शहदेव, सचिव मुश्ताक अहमद, अजीत केशरी, कलीम अंसारी, सईद अंसारी, जगमोहन महतो, बबलू हाशमी सहित अन्य पहुंचे थे। 

'स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है। उपद्रव कर रहे लोगों को खदेड़ दिया गया। पुलिस गांव में कैंप कर रही है। माहौल सामान्य है। बिगाडऩे की कोशिश करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। आशुतोष शेखर, ग्रामीण एसपी।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Alok Shahi