रांची, जेएनएन। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की 100वीं जयंती पर आज सीएम रघुवर दास ने ट्वीट कर उन्हें श्रद्धांजलि दी है। वहीं, लोहरदगा के कांग्रेस भवन में कांग्रेसियों ने इंदिरा गांधी की जयंती मनाई और उनकी प्रतिमा पर माल्‍यार्पण  किया।

इंदिरा जब राजनीति में अपने करिअर की शुरुआत कर रहीं थीं, तब लोकसभा में अपने शांत व्यवहार के लिए उन्हें राम मनोहर लोहिया ने 'गूंगी गुड़िया' कहना शुरू किया था। बाद में उनकी पहचान एक आयरन लेडी के रूप में सबके सामने बनी।

1971 के लोकसभा चुनाव में इंदिरा ने देश के गरीबों के प्रति संवेदनाएं व्यक्त करते हुए 'गरीबी हटाओ' का नारा दिया था। इंदिरा गांधी ने सबसे पहले 18 मई, 1974 को पूरी दुनिया के दवाब के बावजूद परमाणु परीक्षण करवाया था। इससे पूरी दुनिया में भारत एक शक्ति के रूप में सबसे पहले सामने आया था।

इंदिरा ने 19 जुलाई, 1969 को देश के 14 बड़े बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया था। इस कदम से देश में बड़े और अमीर लोगों के साथ-साथ बैंकिंग सुविधाएं कमजोर वर्ग के लोगों के लिए भी मिलने लगी थी। 25-26 जून 1975 को देश में इमरजेंसी लगाई थी। इस मामले में उन्होंने देश की व्यवस्था को बनाए रखने के लिए ऐसा कदम उठाया था जो कि उनके कार्यकाल ही नहीं बल्कि देश के इतिहास में एक काला दिन बनकर रह गया।

पार्टी में किचकिच से परेशान होकर इंदिरा गांधी ने अपना अलग ही रास्ता चुना। कांग्रेस उस वक्त दो धड़ों में बंट गई थी। जिसमें मोरारजी देसाई ने कांग्रेस ओ बनाई थी। वहीं, इंदिरा ने कांग्रेस आर की शुरुआत की थी। हालांकि बाद में कांग्रेस आर को चुनाव में सफलता मिली थी। इसे बाद में कांग्रेस आई कर दिया गया।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस