रांची, जासं। डोरंडा स्थित हजरत कुतुबुद्दीन रिसालदार बाबा की मजार पर सालाना उर्स के मौके पर चौथे दिन चादरपोशी के लिए मुख्यमंत्री रघुवर दास पहुंचे। उन्होंने बाबा की मजार पर चादरपोशी के साथ राज्य की खुशहाली, समृद्धि और अमन चैन की दुआ मांगी। चादरपोशी से पहले चादर को सिर पर लेकर सीएम बाबा शरीफ के मजार पर पहुंचे। उन्होंने झारखंड को नई ऊंचाई पर ले जाने और गरीबी मिटाने की दुआएं मांगीं।

सीएम ने कामना की कि राज्य में लोग एक दूसरे से मोहब्बत करें, अमन और शांति कायम रहे। ताकि राज्य समृद्ध बन सके। मजार परिसर के अंदर शहर काजी मसूद अफरीदी ने दुआ कराई कि अल्लाह हमारे मुख्यमंत्री रघुवर दास को चुनाव में कामयाबी दें। इस मौके पर दरगाह कमेटी के अध्यक्ष हाजी रऊफ गद्दी, महासचिव मो. फारुक, पप्पू गद्दी आदि मौजूद थे।

नामांकन से एक दिन पहले की चादरपोशी

मुख्यमंत्री रघुवर दास सोमवार को विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन करेंगे। इससे एक दिन पहले उन्होंने डोरंडा स्थित हजरत कुतुबुद्दीन रिसालदार बाबा के दरबार में चादरपोशी की।

सीएम से इलाज के लिए मांगी मदद

सीएम जब चादरपोशी कर दरगाह से निकल रहे थे, इस दौरान उनके सामने  बुजुर्ग महिला आ गई। बुजुर्ग महिला को देखते ही सीएम रुक गए और उनकी परेशानी सुनी। सीएम से बुजुर्ग महिला ने अपने दिल की बीमारी की इलाज के लिए मदद की गुहार लगाई। महिला का नाम सैरून निशा है, वह ङ्क्षहदपीढ़ी की रहने वाली है। सीएम ने उनकी समस्या सुनने के बाद तुरंत अधिकारियों को मदद का निर्देश दिया। इसके बाद आयुष्मान भारत से संबंधित  अधिकारी ने बुजुर्ग से पूरा विवरण लिया।

तेरी रहमतों का दरिया सरेआम चल रहा है...

मुंबई से आए कव्वाल दानिश साबरी और दिल्ली से आए हमसर हयात निजामी के बीच कव्वाली का मुकाबला चला। दोनों ने एक से बढ़कर एक कलाम पेश किए।

जैप जवानों ने दी सलामी

सुबह करीब नौ बजे बजे जैप-1 की ओर से चादरपोशी की गई। वहां पर जवानों ने बाबा को सलामी दी। इसके बाद राष्ट्रीय धुन बजाई गई।

Posted By: Alok Shahi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप