पलामू, जासं। अब स्वास्थ्य विभाग सिक केयर से वेलनेस केयर की ओर बढ़ रहा है। पहले विभाग का फोकस होता था कि बीमार आदमी को कैसे ठीक करें। अब बीमार आदमी को केवल ठीक करने की सोच से आगे बढ़ते हुए आदमी बीमार न पड़े, इस पर विभागीय फोकस है। इसके लिए जिले के 96 उप स्वास्थ्य केंद्रों को हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के रूप विकसित करने की तैयारियां जारी हैं।

पलामू जिले में 96 जगहों पर जन आरोग्य प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना के तहत हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर खुल जाने के बाद क्षेत्र के लोगों को कई तरह की स्वास्थ्य सुविधाएं सरलतापूर्वक मिल सकेंगी। इसकी तैयारी स्वास्थ्य विभाग ने शुरू कर दी है। उन्हें आसपास में ही बेहतर इलाज की सुविधा मिल सकेगी। हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के माध्यम से डायबीटीज, हृदय रोग व कैंसर के मरीजों की इलाज की सुविधा मुहैया कराई जाएगी। इसके अलावा यहां योग व अन्य खूलकूद की भी सुविधाएं होंगी। स्वास्थ्य विभाग स्वस्थ पलामू के निर्माण की दिशा में काम कर रहा है।

क्या है हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर

जन आरोग्य प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना के तहत सुदूर ग्रामीण इलाके में हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के माध्यम से गंभीर व असाध्य बीमारियों से ग्रसित मरीजों को चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराना इसका मुख्य उद्देश्य है। इसके माध्यम से ब्लड प्रेशर, शुगर व कैंसर के मरीजों की समय-समय पर जांच कर उन्हें आवश्यक जीवन रक्षक दवाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। साथ ही नए मरीजों की खोज की जाएगी।

नए मरीजों को बेहतर इलाज के लिए उच्च चिकित्सा संस्थानों में रेफर किया जाएगा। कैंसर, शुगर व ब्लड प्रेशर के मरीजों की पहचान हो जाने के बाद उन्हें नियमित रूप से हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के माध्यम से ही दवाएं दी जाएंगी। इसके लिए चिकित्सकों, सीएचओ, एएनएम व अन्य कर्मचारियों को विशेष रूप से प्रशिक्षित भी किया जाएगा। इसके लिए तैयारी की जा रही है।

Edited By: Kanchan Singh