जागरण संवाददाता, रांची : पश्चिम बंगाल में आरएसएस के स्वयंसेवक की पत्नी व बच्चे सहित हत्या किए जाने पर विश्व हिदू परिषद ने गहरा आक्रोश व्यक्त किया है। झारखंड के प्रांत प्रवक्ता संजय कुमार ने कहा कि इस घटना से हिदू समाज में काफी आक्रोश है। बंगाल में राज्य सरकार के संरक्षण में हिदुओं की लगातार हत्याएं हो रही हैं। ऐसी स्थिति में केंद्र सरकार को वहां राष्ट्रपति शासन लगाकर सभी हत्यारों पर कार्रवाई करनी चाहिए। साथ ही केंद्रीय सुरक्षाबल को भेजकर वहां कानून व्यवस्था की स्थिति ठीक करनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि ममता सरकार बंग्ला देश के मुसलमानों के साथ-साथ रोहिंग्या को संरक्षण देकर अपनी राजनीतिक महत्वाकाक्षा को पूर्ण करने के लिए सक्रिय हिदुओं की हत्या करवा रही है, ताकि आने वाली चुनाव में इसका फायदा मिले। कहा, विजयादशमी के दिन मुर्शिदाबाद में 35 वर्षीय बंधु प्रकाश पाल, उनकी पत्नी एवं आठ वर्षीय बेटे अंगन बंधु पाल की नृशंस हत्या कर दी गई। वह संघ का स्वयंसेवक था। हिदू समाज ऐसे घटना से उबाल पर है और मजबूर होकर प्रतिक्रिया देने को आतुर हो रहा है। हमारे हर पर्व में मुस्लिम अड़ंगा लगाते हैं। माहौल को खराब करना ओर हिदू को डरना उनका मकसद रहता है। केंद्र सरकार की जिम्मेदारी बनती है कि हिदुओं के मान-सम्मान की रक्षा करे।

झारखंड में भी जल्द से जल्द लागू हो एनआरसी

संजय कुमार ने कहा कि झारखंड सरकार भी जल्द से जल्द एनआरसी लागू करे, ताकि झारखंड में रह रहे अवैध बंग्लादेशी ओर रोहिंग्या को बाहर किया जाय। नहीं तो वो दिन दूर नहीं जब यहां के भोले-भाले आदिवासी-वनवासी की जमीन पर कब्जा कर, यहां के लोगों का धर्मातरण करवा अपनी संख्या बढ़ाएंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस