रांची, [संजय सुमन]। लोक आस्था के महापर्व छठ के आयोजन की तैयारियां प्रारंभ हो गई हैं। झारखंड सरकार की ओर से गाइड लाइन के अनुसार इस बार नदी और तालाब घाटों पर सार्वजनिक छठ पूजा के आयोजन पर रोक लगा दी गई है। ऐसे में विकल्प के रूप में लोग कृत्रिम स्विमिंग पूल मंगा रहे हैं। यह स्विमिंग पूल रबड़ का बना हुआ है। इसे फोल्ड कर कहीं भी रखा जा सकता है। इस में हवा भर कर पानी जमा किया जा सकता है।

इसकी कीमत करीब ₹4000 बताई जा रही है। घर और छत के ऊपर इस स्विमिंग पूल को स्थापित किया जा सकता है। छठ व्रतियों के लिए घर में पूजन की व्यवस्था सुनिश्चित कराने के लिए भारतीय कंपनियों की ओर से यह उत्पाद तैयार किए गए हैं। बताया जा रहा है कि इससे पहले इसका इस्तेमाल बच्चों को स्विमिंग सिखाने के लिए किया जाता था। बदले माहौल में अब इसे छठ व्रतियों की जरूरत के मद्देनजर तैयार किया गया है।

ऑनलाइन हो रही आपूर्ति

विभिन्न ऑनलाइन मार्केटिंग कंपनियों की ओर से इस कृत्रिम स्विमिंग पूल की आपूर्ति की जा रही है। लोग इसका खूब ऑर्डर कर रहे हैं। औसतन इसका आकार प्रकार 8 बाई 4 रखा गया है। इसमें चार से पांच महिलाएं एक साथ खड़ी होकर पूजा कर सकती हैं। इस स्विमिंग पूल में हवा भरने से लेकर पानी भरने तक के उपकरण अलग से दिए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें: Chhath Puja 2020: झारखंड सरकार के आदेश से छठ व्रतियों की बढ़ी परेशानी, बिहार में मिली है राहत

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप