रांची, जासं। सीबीएसई छात्र-छात्राओं को पानी का महत्व समझाने व उसके संरक्षण के उद्देश्य से साइंस एग्जीबिशन फेयर का आयोजन कर रहा है। एग्जीबिशन का थीम है- साइंस एंड टेक्नोलॉजी फाॅर सस्टेनेबल डेवलेपमेंट विथ अ थ्रस्ट ऑन वाटर कंजर्वेशन है। इसके अंतर्गत सात सब-थीम है जिस पर मॉडल बनाना है। साइंस एग्जीबिशन में भाग लेने के लिए स्कूल को 12 अक्टूबर तक सीबीएसई की वेबसाइट डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू.सीबीएसई.एनआइसी.इन पर जा कर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना होगा। इसके बाद शुल्क 18 अक्टूबर तक कन्फर्म करना है। रजिस्ट्रेशन शुल्क 1500 रुपये लगेंगे।

हर स्कूल से भाग लेगी एक टीम

एग्जीबिशन में एक स्कूल से एक टीम भाग ले सकती है। टीम में एक या दो छात्र के साथ मेंटर के तौर पर एक साइंस टीचर होंगे। एग्जीबिशन में सेशन 2019-20 के कक्षा छह से ग्यारह तक के विद्यार्थी भाग ले सकते हैं। एक टीम अधिकतम दो मॉडल के लिए रजिस्ट्रर करवा सकता है। एग्जीबिशन में भाग लेने वाले विद्यार्थी या शिक्षक का नाम ऑनलाइन रजिस्टर हो जाने के बाद इसमें परिवर्तन संभव नहीं होगा।

हर रीजन से बेस्ट 24 का चयन

एग्जीबिशन रिजनल व नेशनल लेवल पर अक्टूबर-नवंबर माह में होगा। रिजनल लेवल पर चयनित टीम नेशनल लेवल पर भाग लेगी। हर रीजन से बेस्ट 24 मॉडल का चयन होगा जो नेशनल लेवल पर भाग लेगी। नेशनल लेवल पर चयनित मॉडल को वर्ष 2020 में आयोजित 47वीं जवाहर लाल नेहरू नेशनल साइंस मैथमेटिक्स एंड इन्वायरामेंटल एग्जीबिशन फार चिल्डे्रन में भेजा जाएगा।

इको-फ्रेंडली मैटेरियल्स का ही प्रयोग हो

सीबीएसई ने स्पष्ट निर्देश दिया है कि मॉडल बनाने में इको-फ्रेंडली मेटैरियल्स का ही प्रयोग हो। मॉडल के कई तरीके से परखा जाएगा और प्रत्येक पर अंक निर्धारित होंगे। मॉडल में क्रिएटिविटी, इमेजिनेशन, साइंटिफिक थाउट, प्रींसपुल से लेकर एप्रोच पर गौर किया जाएगा। इसके अलावा मॉडल का समाज के लिए क्या उपयोग होगा, उसका एजुकेशनल वैल्यू क्या होगा जैसी बातों का ध्यान रखते हुए चयन होगा। मॉडल बनाते वक्त उसमें होने वाले खर्च का भी ध्यान रखना होगा। कम से कम कीमत पर बनने वाले मॉडल पर चयनकर्ता का ध्यान होगा।

एग्जीबिशन का यह है सब-थीम

  • सस्टेनेबल एग्रीकल्चरल प्रैक्टिसेस
  • क्लीनलिनेस एंड हेल्थ
  • रिसोर्स मैनेजमेंट
  • इंडस्ट्रियल डेवलेपमेंट
  • फ्यूचर ट्रांसपोर्ट एंड कम्यूनिकेशन
  • एजुकेशनल गेम्स एंड मैथमेटिकल मॉडलिंग
  • अन्य

Posted By: Sujeet Kumar Suman

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप