रांची : (जासं बड़ा तालाब के अधूरे पड़े सुंदरीकरण का काम जल्द शुरू होगा। ये अधूरा काम सुंदरीकरण के पहले चरण की बची हुई राशि से किया जाएगा। बची हुई राशि करीब 4 करोड़ 32 लाख 81 हजार रुपये है। इस राशि से तालाब के चारों ओर अधूरे पाथवे का काम पूरा किया जाएगा। पाथवे सहित सुंदरीकरण के बचे कामों के लिए रांची नगर निगम ने एक टेंडर जारी किया है। बहुत जल्द बड़ा तालाब में बोङ्क्षटग की सुविधा शुरू की जाएगी। वहीं बड़ा तालाब के बीचों-बीच टापू पर कैफेटेरिया बनाया जाएगा। बोङ्क्षटग करते हुए लोग टापू तक पहुंचेंगे। इसके लिए निगम जल्द ही एक टेंडर भी निकालेगा। तालाब के चारों तरफ लाइङ्क्षटग और घूमने आने वाले यात्रियों के बैठने के लिए बेंच की व्यवस्था और तालाब के पास स्थित पुराने घाट का जीर्णोद्धार कराया जाएगा। जीर्णोद्धार में करीब 12 लाख रुपये की राशि खर्च होगी।

10 करोड़ रुपये खर्च कर तालाब में बड़े-बड़े पिलर, फिर काम को अधूरा छोड़ा : विवेकानंद सरोवर (बड़ा तालाब) के सौंदर्यीकरण के पहले फेज पर बड़ी राशि खर्च कर दी गई है। पहले फेज में करीब 17 करोड़ रुपये खर्च किए जाने थे। बावजूद बड़ा तालाब के सौंदर्यीकरण का काम आज तक अधूरा ही पड़ा है। अब तक केवल तालाब के चारों ओर पाथ-वे बनाने के नाम पर ही 10 करोड़ रुपये फूंक दिये गए। इसके लिए तालाब में बड़े-बड़े पिलर तक गाड़े गये, लेकिन काम को अधूरा छोड़ दिया गया। सभी पिलर आज भी तालाब में पड़े हुए हैं। तालाब के चारों तरफ कंक्रीट का पाथवे बनाने का असर यह हुआ है कि तालाब में बरसात का पानी नहीं आता है। इससे तालाब के जलस्तर पर भी असर पड़ा है। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021