रांची, जासं। राजधानी रांची में चलने वाली सिटी बसों में लगातार हो रही पॉकेटमारी से परेशान बस चालकों ने बसों का परिचालन ठप कर दिया है। गुरुवार को धुर्वा गोलचक्कर और रातू रोड से खुलनेवाली 25 सिटी बसों का परिचालन बंद कर दिया गया है। चालकों का आरोप है कि पॉकेटमारी की शिकायत के बावजूद पुलिस इस पर लगाम नहीं लगा पा रही है। आए दिन बस में सवार होने वालों का जेब काट लिया जा रहा है। यह आरोप लगा कर चालकों ने बस को चलाने से इंकार कर दिया है। वे नगर निगम के पदाधिकारियों से वार्ता के लिए धुर्वा में जमे हैं।

बस के परिचालन ठप होने से यात्री परेशान हैं। बस चालकों का कहना है कि पॉकेटमार आठ-दस की संख्‍या में आते हैं। इसकी सूचना पहले भी थाने को दी गई है। पुलिस का कहना है कि मामले का संज्ञान आया है। इस पर कार्रवाई करेंगे। बता दें कि शहर में 40-50 बस चलती है। नगर निगम ने मामले में कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

चार घंटे बाद शुरू हुआ सिटी बसों का परिचालन

बुधवार को पॉकेटमारी की घटना के बाद कंडक्टर की पिटाई के मामले के विरोध में गुरुवार की सुबह धुर्वा से किशोरी यादव चौक तक सिटी बसों का परिचालन चार घंटे तक बंद रहा। हालांकि नगर निगम ट्रांसपोर्ट सेक्शन के अधिकारियों की पहल पर लगभग 11 बजे सिटी बसों का परिचालन शुरू किया गया। सिटी बस के चालकों और कंडक्टर ने बताया कि पॉकेटमारी करने वालों की पहचान होने के बाद पॉकेटमारों ने कंडक्टर की पिटाई कर दी थी।

लिहाजा चालक और कंडक्टर अपनी सुरक्षा की मांग को लेकर सिटी बसों का परिचालन बंद कर दिया था। पिछले कुछ महीनों से सिटी बसों में पॉकेटमारी की घटना लगातार घट रही है। इससे सिटी बस में यात्रा करने वाले यात्री काफी परेशान हैं। बुधवार को कांटाटोली में एक सिटी बस में तमाड़ निवासी विष्णु मुंडा के पर्स, जिसमें 3000 रुपये के अलावा अन्य कागज तथा राम सिंह जोगी का 2000 रुपये के साथ आधार-गोल्डन कार्ड था, की पॉकेटमारी हो गई थी।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस