जागरण संवाददाता, रांची : राची विवि के कुलपति डॉ. रमेश कुमार पाडेय ने कहा कि लेखक शिक्षकों को बढ़ावा देने के लिए उनके द्वारा लिखित पुस्तकों को विवि व कॉलेजों की लाइब्रेरी में रखी जाएगी। ऐसे शिक्षकों का लेखन के प्रति उत्साह कम नहीं हो इसके लिए सभी प्रकार के उपाय किए जाऐंगे। वे शनिवार को आरयू मुख्यालय के काफ्रेंस हॉल में रांची वीमेंस कॉलेज की शिक्षिका डॉ. इच्छा पूरक और निर्मला कॉलेज की सह लेखिका डॉ. इंदू कुमारी द्वारा लिखित टेक्स्ट बुक 'द प्रोसेस ऑफ फ्लॉवरिंग' के विमोचन के मौके पर शिक्षकों को संबोधित कर रहे थे। वीसी ने कहा कि यह पुस्तक च्वाइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम (सीबीसीएस) पर लिखा गया है। दीक्षा इंटरनेशनल पब्लिशिंग द्वारा प्रकाशित यह पुस्तक यूजी-पीजी के विद्यार्थियों के लिए उपयोगी है। यूजीसी पूछता है विवि ने किस तरह की सहायता की

वीमेंस कॉलेज की प्राचार्या डॉ. मंजु सिन्हा ने कहा कि यूजीसी भी पूछता है कि शिक्षकों द्वारा पुस्तक लेखन के समय कॉलेज या विवि किस तरह की सहायता किया था। इसलिए लेखक शिक्षकों को सहयोग करनी चाहिए। मौके पर प्रोवीसी डॉ. कामिनी कुमार, डीएसडब्ल्यू डॉ. पीके वर्मा, रजिस्ट्रार डॉ. अमर कुमार चौधरी, परीक्षा नियंत्रक डॉ. राजेश कुमार, डॉ. प्रीतम कुमार, डॉ. राजीव कुमार सिंह, प्राचार्या डॉ. ज्योति, विभावि प्रोवीसी डॉ. के कंदिर, डॉ. मीना सहाय, डॉ. शुभ्रा चटर्जी, डॉ. अनिता मेहता, डा. रश्मिमाला सहित अन्य थे। अभाविप के महानगर अध्यक्ष बने प्रो. आनंद

जागरण संवाददाता, रांची : अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की महानगर इकाई का पुनर्गठन शनिवार को किया गया। इसमें रांची विवि के पीजी जूलॉजी विभाग के प्रोफेसर आनंद ठाकुर को महानगर अध्यक्ष बनाया गया। वहीं उपाध्यक्ष में प्रो. यशोधरा राठौर, प्रो. दिनेश मिश्रा, प्रो. एसएन उराव व प्रो. मुकुल कुमार शामिल हैं। महानगर मंत्री में दुर्गेश कुमार, अनिकेत कुमार, श्याम वर्मा, गणेश यादव, मनीष सिंह, सोनू कुमार, रोमा तिर्की, त्रिशिका कुमारी, दिशा दित्या, मुक्ता नारायण शामिल हैं। प्रो. आनंद ठाकुर ने सभी को बधाई दी एवं कार्य को पूर्ण निष्ठा के साथ करने की बात कही।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस