रांची, राज्य ब्यूरो। Jharkhand Assembly Election 2019 विधानसभा चुनाव के ऐन पहले झारखंड की राजनीति में बदनामी का गंदा खेल शुरू हो गया है। ताजा मामले में भाजपा के बोकारो विधायक बिरंची नारायण का एक वीडियो वायरल हुआ है। निजी पलों के इस वीडियो में विधायक अकेले दिख रहे हैं और ऐसा लग रहा है जैसे किसी ने उनके मोबाइल से यह वीडियो निकाल लिया हो या फिर विधायक ने किसी को भेजा हो और वहां से लीक हुआ हो। जो भी हो, विधायक ने वीडियो को फर्जी करार दिया है और डीसी व एसपी से इसकी जांच करने की मांग भी की है। अभी इसकी प्राथमिकी दर्ज नहीं हुई है लेकिन शाम तक कोई कार्रवाई हो सकती है। 

हनी ट्रैप का मामला तो नहीं

चर्चा यह भी है कि आधा दर्जन से अधिक विधायकों के वीडियो, ऑडियो और सेक्स चैट वायरल हो रहे हैं। पूरे मामले को हनी ट्रैप से जोड़कर देखा जा रहा है। बिरंची नारायण के वीडियो के बारे में सूत्रों के अनुसार चर्चा है कि यह वीडियो उत्तराखंड के किसी होटल का है। संभवत: विधानसभा समिति के सदस्य के रूप में विधायक वहां गए थे। 

आधा दर्जन से अधिक एमएलए के नाम

वायरल वीडियो के साथ आधा दर्जन से अधिक एमएलए के नाम जोड़े जा रहे हैं और बताया जा रहा है कि इनका वीडियो, ऑडियो और सेक्स चैट बाजार में घूम रहा है। इनमें धनबाद जिले के दो विधायक, देवघर, जामताड़ा और बोकारो जिले के एक और विधायक का नाम आ रहा है।

वायरल वीडियो की जांच को लेकर विधायक समर्थक पहुंचे एसपी के पास

बोकारो विधायक बिरंची नारायण के अश्लील वीडियो वायरल होने के मामले में भाजपा नेताओं ने एसपी पी मुरूगन से मिलकर ज्ञापन सौंपा। समर्थकों ने मांग किया कि विधायक को बदनाम करने के लिए एडिट किया हुआ वीडियो वायरल किया जा रहा है। ताकि विधायक को परेशान किया जा सके। आवेदन में वायरल करने वाले तथा वीडियो बनाने वालों पर ठोस कार्रवाई की मांग की है।

विधायक प्रतिनिधि व बीस सूत्री उपाध्यक्ष संजय त्यागी ने कहा कि वीडियो को समय देखकर वायरल किया गया है। यह पार्टी व विधायक दोनों को बदनाम करने का प्रयास है। संबंधित पर आपराधिक एवं आदर्श आचार संहिता मामला दर्ज होना चाहिए। प्रतिनिधि विकास कुमार की शिकायत पर सिटी थाने में मामला दर्ज किया गया है। मौके पर मृत्युंजय शर्मा, अवधेश यादव , सुनील मोहन ठाकुर, धीरज झा, उमेश शर्मा सहित अन्य उपस्थित थे। उपायुक्त को दिए गए ज्ञापन की प्रति बोकारो विधानसभा के निर्वाची पदाधिकारी विजय कुमार को कार्रवाई करने का आदेश दिया गया है।

जांच में लगी  पुलिस, दो दिनों में होगा खुलासा

सूत्रों का कहना है कि बोकारो विधायक बिरंची नारायण के खिलाफ वायरल वीडियो को लेकर जिला से लेकर पुलिस मुख्यालय सक्रिय हो गया है। आने वाले दों दिनों में पूरा मामला सामने आ जाएगा। पुलिस दो मामले पर जांच कर रही है। पहला यह कि क्या वीडियो एडिट किया गया तो मूल वीडियो क्या था ? दूसरा पहली बार इस वीडियो किसने वाट्सएप अपलोड किया। इस संबंधी सिटी थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ साजिश करने एवं चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन करने सहित अन्य धाराअेां में मामला दर्ज किया गया है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस