रांची, जेएनएन। रांची व आसपास के क्षेत्रों के लिए ओरमांझी स्थित बिरसा जैविक उद्यान व मछली घर लोगों की पहली पसंद बन गया है। यह उद्यान राची-रामगढ़ पथ पर सड़क किनारे ओरमांझी व ईरबा के बीच अवस्थित है। उद्यान दो भागों में बंटा है। सड़क के पूर्वी किनारे पर जैविक उद्यान है व पश्चिमी क्षेत्र में मछली घर अवस्थित है। जैविक उद्यान के अंदर खाना बनाना व खाना निषेध है। लेकिन दूसरी ओर लोग खाना का लुत्फ उठाते हैं।

उद्यान के अंदर नाचते मोर, चहकते लव वर्ड, उधम मचाता बंदर व भालू तथा दहाड़ता शेर लोगों को अनायास आकर्षित करता है। इसके अलावा रंग-बिरंगे फूल, चारों ओर हरियाली व झील में नौकायन कर मजा लेते लोग तथा मछली घर में अठखेलिया करती रंग-बिरंगी मछलिया आखों को सकून व दिल को आनंद देती हैं। वहीं दूसरी ओर मछली घर का अलग आकर्षण है। वहा भी परिवार संग कई घटे बिताए जा सकते हैं।

मछली घर के चारों ओर खुला व सुरक्षित वन क्षेत्र है जहा परिवार संग बैठकर गुनगुनी धूप का मजा लिया जा सकता है। उद्यान के अंदर नौकायन, घूमने के लिए खुली गाड़ी व अंदर में बड़ा सा पार्क भी है जहा परिवार संग धूप में लोग घंटो व्यतीत करते हैं। बस से भी घूमकर सभी जानवरों को देखा जा सकता है। वहीं पर प्रबंधन द्वारा मुख्य द्वार और अंदर में झील के पास कैंटीन की व्यवस्था भी है।

मेन गेट के पास ही चिल्ड्रेन पार्क भी है जो बच्चों के बीच काफी लोकप्रिय है। उद्यान के बगल में ही बड़े-बड़े तीन-चार रेस्टोरेंट भी है इसलिए खाना बनाने की टेंशन लोग नहीं लेते हैं। यही कारण है कि इन दिनों उद्यान में परिवार सहित लोगों की भीड़ देखी जा सकती है। उद्यान के अंदर शौचालय व पेयजल के लिए उत्तम व्यवस्था प्रबंधन द्वारा किया गया है।

ऐसे पहुंचे उद्यान : उद्यान पहुंचने के लिए राची अथवा रामगढ़ से आने के लिए ऑटो, ट्रेकर व बस से सीधा पहुंचा जा सकता है। राची से किसी भी स्टैंड से रामगढ़ या ओरमाझी की गाड़ी पकड़ कर पहुंचा जा सकता है।

सबसे सुरक्षित स्थान : आजकल लोग परिवार सहित वहीं जाना चाहते हैं जहा सभी तरह से सुरक्षित हो। बिरसा जैविक उद्यान सुरक्षा की दृष्टिकोण से सबसे उत्तम स्थान है। दर्शकों की भीड़ देखते हुए ओरमाझी पुलिस के अलावा राची से अतिरिक्त पुलिस बल भी काफी संख्या में तैनात रहती है। इसके अलावा उद्यान कर्मी भी उद्यान के चारों ओर तैनात रहते है। पूरा क्षेत्र सीसीटीवी की नजर में रहता है।