जागरण संवाददाता, रांची : कोराना वायरस को लेकर भले ही कोचिंग गाड़ियों का परिचालन पूरे भारत में बंद है। लेकिन अब भी मालगाड़ी का परिचालन हो रहा है। नियमों में बंधे ट्रेन के लोको पायलटों को रोजाना बायोमीट्रिक हाजिरी देनी पड़ रही है। यही नहीं मशीन में लगे ब्रेथ एनालाइजर टेस्ट कराने के लिए फूंकना पड़ रहा है। इस मशीन में एक नहीं बल्कि जितने भी लोको पायलट, असिस्टेंट लोको पायलट और गार्ड हैं उन्हें इसका पालन करना पड़ रहा है। रेलवे की इस लापरवाही से कोराना वायरस का खतरा इन रेल कर्मियों के ऊपर मंडराने लगा है।

जब लोको पायलट इसकी शिकायत अपने वरीय पदाधिकारी से कर रहे हैं तो उनका कहना है कि वह मजबूर हैं और उन्हें ऊपर के निर्देश का पालन करना होगा। इसलिए वह इस दिशा में कुछ नहीं कर सकते हैं। रेलवे की यह लापरवाही महंगी पड़ सकती है। बायोमीट्रिक मशीन के संपर्क में आने से फैल सकता है वायरस

केंद्र सरकार व विभिन्न राज्य सरकारों ने अपने सभी विभागों को बायोमीट्रिक हाजिरी से मुक्त कर दिया है। लेकिन इस दिशा में रेलवे की ओर से कोई पहल नहीं की जा रही। बायोमीट्रिक मशीन के संपर्क में आने से कोरोना वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल सकता है। इसके एक ही मशीन से दिनभर में कई लोको पायलट ब्रेथ एनालाइजर से गुजरते हैं। ऐसे में अगर कोई भी प्रभावित हुआ तो एक साथ यह वायरस कई लोगों को संक्रमित हो सकता है।

स्टेशनों का किया जा रहा सैनिटाइज : रांची रेल मंडल ने अपने सभी रेलवे स्टेशनों को एक एक कर के सैनिटाइज करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। रांची रेल मंडल के सभी कार्यालयों को सैनिटाइज किया जा रहा है। आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की जा रही है उसे भी सैनिटाइज किया जा रहा है। कंट्रोल ऑफि स स्टेशन और शेड मे कम से कम कर्मचारियों से काम लिया जा रहा है। रांची रेल मंडल पर कोयले का लदान चालू है, जो बिजली उत्पादन के क्षेत्र मे काम आएगा। राची मंडल पर हटिया स्थित रेल अस्पताल में कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्तियों के लिए विशेष व्यवस्था की गई है। पुरुषों के लिए चार तथा महिलाओं के लिए चार बेड का एक स्वतंत्र वार्ड तैयार किया गया है। हटिया मे ही रेल सुरक्षा बल बैरैक में 50 बेड का स्वतंत्र वार्ड सभी अत्याधुनिक सुविधाओं के साथ तैयार किया गया है। इस कठिन परिस्थिति में जो रेल कर्मचारी कार्य कर रहे हैं। उनकी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए राची रेल मंडल द्वारा सैनिटाइजर एवं मास्क बनाया गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस