रांची। ट्रैक्टर चालक डहरू उरांव की हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा करते हुए दो आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। गिरफ्तार आरोपितों में संजय उर्फ सहदेव बढ़ई और शिवा उर्फ सुधू महली शामिल हैं। दोनों गुमला जिला के रहने वाले हैं। पुलिस ने बताया डहरू को पहले शराब पिलाई और मुरला पहाड़ के ऊपर ले गए। मुरला पहाड़ पर बैठकर बातचीत की। इसके बाद सिर पर डंडे से अचानक हमला कर दिया, जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई।

पुलिस ने चार घंटे के अंदर हत्याकांड का खुलासा किया है। इन लोगों के पास से पुलिस ने घटना में इस्तेमाल खून लगा हुआ डंडा और कपड़ा बरामद किया है। उक्त जानकारी कोतवाली डीएसपी भोला प्रसाद सिंह ने गुरुवार को प्रेसवार्ता में दी। उन्होंने कहा कि डहरू की हत्या उसके दो दोस्तों ने मिलकर की है। मृतक ने दोनों की पत्नी के साथ जबरदस्ती करने का प्रयास भी किया था। छापेमारी टीम में सुखदेवनगर इंस्पेक्टर नवल किशोर सिंह, एसआइ अमित कुमार पासवान, संजय कुमार दास, धर्मदेव चौधरी समेत कई पुलिसकर्मी शामिल थे।

दोस्त के साथ मिलकर बनाई थी हत्या की योजना
कोतवाली डीएसपी ने बताया कि मृतक डहरू ने दोनों की पत्नी के साथ छेड़खानी करते हुए जबरदस्ती करने का प्रयास किया था। दोनों की पत्नी ने जब मामले की जानकारी पति को दी। इसके बाद दोनों ने साजिश के तहत शराब पिलाकर डहरू की हत्या के बाद शव को पहाड़ पर ही फेंक दिया था।

युवक की हत्या में दो युवतियों को भेजा जेल
लोअर बाजार थाना क्षेत्र स्थित कर्बला चौक के पास 21 अगस्त को हुई 20 वर्षीय सैफ हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा करते हुए दो आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। गिरफ्तार आरोपितों में दो युवतियां शामिल हैं। जिसमें मुन्ना खातून और नीलू खातून शामिल हैं। दोनों युवतियां रिश्ते में बहन हैं। पुलिस ने दोनों को बुधवार पकड़ा है। पूछताछ में दोनों ने अपनी संलिप्तता को स्वीकार की है। इस हत्या का मास्टर माइंड मो इरशाद उर्फ बडकू अब भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही है।

इधर, लोअर बाजार इंस्पेक्टर सुमन कुमार सिन्हा ने बताया कि आपसी विवाद में सैफ की हत्या हुई है। दोनों युवतियों को न्यायालय के समक्ष पेश करने के बाद बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा भेज दिया गया है। लोअर बाजार इंस्पेक्टर ने बताया कि प्लानिंग के तहत गिरफ्तार दोनों युवतियों और मो. इरशाद ने पैसे देने के बहाने बुलाया था। पैसे के लेन-देन में विवाद हुआ, जिसके बाद चाकू से हत्याकर फरार हो गए। इससे पूर्व सैफ का दोनों युवतियों से घरेलू विवाद चल रहा था। वहीं इरशाद से मोबाइल के पैसे लौटाने को लेकर विवाद चल रहा था।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस