रांची, {दिव्यांशु}। Jharkhand BJP New State President झारखंड प्रदेश भारतीय जनता पार्टी में नए संगठन मंत्री की नियुक्ति के बाद अब नए प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने की बात शुरू हो गई है। फरवरी 2020 में प्रदेश अध्यक्ष बनाए गए दीपक प्रकाश का तीन साल का कार्यकाल पूरा होने में अब कुछ ही महीने बचे हैं। नए संगठन मंत्री कर्मवीर सिंह को पार्टी की एक नई टीम के साथ काम करने देने के लिए केंद्रीय नेतृत्व प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर नए व्यक्ति को जिम्मा सौंप सकता है। हाल ही में राज्य सभा सदस्य बनाए गए आदित्य प्रसाद साहू और राज्य बीस सूत्री कार्यक्रम के पूर्व उपाध्यक्ष रहे राकेश प्रसाद का नाम नए प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर चल रहा है।

जातीय समीकरण साधने की कवायद

दो साल पहले राज्य में सरकार गंवा चुकी भाजपा नए प्रदेश अध्यक्ष के जरिए जातीय और सामाजिक संतुलन को भी साधना चाहेगी। पार्टी ओबीसी मतदाताओं को ध्यान में रखते हुए ही नए प्रदेश अध्यक्ष का नाम तय करेगी। आदित्य साहू और राकेश प्रसाद पिछड़ा वर्ग से आते हैं। इसके जरिए पार्टी वैश्य समुदाय को संदेश देने की कोशिश करेगी। पिछले विधान सभा चुनाव में पलामू प्रमंडल के प्रभारी के तौर पर आदित्य साहू ने पार्टी को सफलता भी दिलाई थी। वहीं राकेश प्रसाद बीस सूत्री समिति के उपाध्यक्ष रहे। मौजूदा प्रदेश कमेटी में शामिल प्रदीप वर्मा के समर्थकों को भी उन्हें अध्यक्ष बनाए जाने की उम्मीद है। दो साल पहले विधायक दल के नेता के तौर पर बाबूलाल मरांडी और प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश की नियुक्ति की घोषणा एक दिन के अंतराल पर हुई थी। नए संगठन मंत्री कर्मवीर सिंह के कार्यभार संभालते ही प्रदेश भाजपा को नया अध्यक्ष मिल सकता है।

नए संगठन मंत्री की हो चुकी नियुक्ति

मालूम हो कि झारखंड भाजपा ने एक अहम बदलाव करते हुए संगठन मंत्री की जिम्मेदारी कर्मवीर सिंह को सौंप दी है। वह आरएसएस के प्रचार रहे हैं। दस साल बाद आरएसएस के प्रचारक की यहां इस पद पर तैनाती की गई है। पार्टी की यह समझ है कि आरएसएस प्रचारक होने के नाते संगठन को वह मजबूती प्रदान कर सकते हैं। कर्मवीर सिंह पहले यूपी भाजपा के सह संगठन मंत्री रह चुके हैं। मजबूत संगठन क्षमता के कारण ही उन्हें यहां भेजा गया है। कर्मवीर सिंह यूपी चुनाव में जाट बहुल क्षेत्रों में पहले भाजपा के लिए काम कर चुके हैं। यहां आदिवासी वोटरों में पैठ बनाना उनका मुख्य लक्ष्य हो सकता है।

Edited By: M Ekhlaque