लोहरदगा, जासं। लोहरदगा में गुरुवार को बड़ा बवाल हो गया। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में निकाले गए जुलूस पर उपद्रवियों ने हमला कर दिया। इससे पूरे शहर में अफरा-तफरी मच गई। उपद्रवियों ने पुलिस के वाहनों को निशाना बनाया। जुलूस में शामिल लोगों पर पथराव किया गया। कई लोग बुरी तरह घायल हो गए। पुलिस के कई जवान भी इस घटना में घायल बताए जा रहे हैं। पुलिस ने एहतियातन शहर में कर्फ्यू लागू कर दिया है। पुलिस पूरे मामले में कड़ी नजर बनाए हुए है।

कर्फ्यू लागू होने के बाद भी उपद्रवी लगातार हमला कर रहे हैं। जिस ओर पुलिस की मौजूदगी नहीं है, उस ओर हमलावर दुकानें लूट रहे हैं। दुकानों को तोड़-फोड़ रहे हैं। इतना ही नहीं, वे दुकानों में आग तक लगा दे रहे हैं। घर में बने दुकान में उपद्रवियों ने आग लगा दी। इससे आग ने पूरे दुकान समेत घर को अपनी चपेट में ले लिया। बंद दुकानों के शटर तोड़कर सामान सड़क पर लाकर आग लगा दे रहे हैं। सड़क पर आगजनी की घटना को अंजाम दे रहे हैं। शहर में पूरी तरह से अफरा-तफरी का माहौल है। लोग-बाग जान बचा कर भाग रहे हैं।

पुलिस के एक जवान ने बताया कि हमलावर मस्जिद की तरफ से पथराव करने लगे। पुलिस के कई वाहनों को भी उपद्रवियों ने क्षतिग्रस्त किया। उपद्रवियों ने कई गाडि़यों को आग के हवाले कर दिया। हमलावरों ने एसपी प्रियदर्शी आलोक को भी निशाना बनाया। ईंट-पत्थर, टूटी हुई कुर्सियों से सड़क भर गया। घटना के बाद एसडीओ ज्योति कुमारी झा ने कर्फ्यू लगाने की घोषणा कर दी।

उपद्रव के दौरान कई कारों के शीशे तोड़े गए और कई वाहनों में आग भी लगा दी गई। बता दें कि आज लोहरदगा में कई हिंदू संगठनों ने सीएए के समर्थन में जुलूस निकाला था। जुलूस शांतिपूर्ण चल रहा था। सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध भी किए गए थे। इसी दौरान उपद्रवियों ने माहौल खराब कर दिया। अचानक से मस्जिद की ओर से जुलूस में शामिल लोगों पर पथराव शुरू हो गया। पुलिस को निशाना बनाया गया। पथरबाजी की घटना के बाद पुलिस ने लोगों से शांति की अपील की।

 

Posted By: Sujeet Kumar Suman

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस