रांची, जासं। Ranchi Coronavirus News Update एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने रविवार को अपने पीछे जिन पांच शूटरों को खड़ा कर प्रेस कांफ्रेंस किया गया, उनमें से एक अपराधी कोरोना पॉजिटिव निकला। अपराधी के संक्रमित मिलने के बाद पुलिस की चिंता बढ़ गई है। अपराधी के संपर्क में आने वाले पुलिसकर्मियों को तत्काल होम क्वारंटाइन कर दिया गया है। आज सभी का सैंपलिंग कराया जाएगा। चुटिया थाने के सभी पुलिसकर्मी सहित अपराधी के संपर्क में आने वाले का कोविड-19 का टेस्ट करवाया जाएगा।

बताया जा रहा है कि एसएसपी भी अपना सैंपल देंगे। बता दें कि रविवार को जेल भेजने से पहले हुई काेविड-19 टेस्ट में एक अपराधी पॉजिटिव निकला है। इसके संक्रमित मिलने के बाद पुलिस पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है। एसएसपी, ग्रामीण एसपी, सिटी एसपी, डीएसपी मुख्यालय वन, चुटिया थाना प्रभारी, जगन्नाथपुर थाना प्रभारी सहित कई पुलिसकर्मियों में संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है। इनके अलावा करीब दो दर्जन पत्रकारों में भी संक्रमण फैलने का खतरा है।

अपराधियों की गिरफ्तारी, हथकड़ी लगाना, उन्हें भोजन देना, उन्हें अस्पताल तक ले जाना। उन्हें हथकड़ी पहनाकर ले जाने वाले सभी पुलिसकर्मी संक्रमण के दायरे में हैं। जिनका सीधा संपर्क होना माना जा रहा है। बताया जा रहा है कि कोरोना पॉजिटिव अपराधी के संपर्क में आए अपराधी की छापेमारी टीम, पूछताछ करने वाले पुलिस अधिकारी व उसे इधर-उधर ले जाने वाले सभी पुलिसकर्मियों का अब कोविड-19 का टेस्ट कराया जाएगा।

इससे पहले तक के लिए सभी को क्वारंटाइन रहने का निर्देश दिया गया है। फिलहाल पांचों अपराधियों को जेल नहीं भेजने से रोक लिया गया है। बाकि बचे चार अपराधियों को दाेबारा टेस्ट कराए जाने के बाद मंगलवार को जेल भेजा जाएगा।

छापेमारी टीम में ये थे शामिल

डीएसपी मुख्यालय वन नीरज कुमार, चुटिया थाना प्रभारी रवि ठाकुर, जगन्नाथपुर थाना प्रभारी अभय कुमार सिंह, मांडर थानेदार राणा जंगबहादुर सिंह, एएसआइ शाह फैसल, पीएसआइ राजीव रंजन, अंकु कुमार, विजय कुमार एसएसपी की क्यूआरटी, चुटिया थाने की पुलिस बल शामिल थी। इनके अलावा कई पुलिस अधिकारियों ने शूटरों से पूछताछ की है। साइबर सेल की डीएसपी ने भी पूछताछ की है।

बिना पीपीई किट पहने किया गिरफ्तार

शूटरों को गिरफ्तारी करने गई टीम ने बिना पीपीई किट पहने ही गिरफ्तार किया है। उसे एसएसपी कार्यालय ले जाए जाने, कोर्ट में पेश करने, उन्हें हथकड़ी लगाने, वाहन में बैठाने, खाना देने सहित सीधे संपर्क में आने वाले किसी भी पुलिसकर्मी ने पीपीई किट नहीं पहन रखा था। ग्लव्स भी नहीं पहन रखा था।

केवल मास्क पहनकर उनसे पूछताछ की गई। यह भी विचारणीय है कि सख्ती के साथ पूछताछ करने वाले पुलिसकर्मी बिना हाथ में ग्लव्स पहने ही संपर्क में आए हैं। हालांकि एसएसपी की ओर से संक्रमण से बचाव के लिए पीपीई किट पहनकर अपराधियों को गिरफ्तार करने का निर्देश दिया गया है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस