रांची, जेएनएन। Jharkhand News Samachar झारखंड के मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन के आदेश के बाद राज्‍य सरकार के सभी कार्यालयों में सुरक्षा के लिए होम गार्ड की तैनाती की जा रही है। सोमवार को सीएम का आदेश जारी होने के बाद मंगलवार को कई कार्यालयों से प्राइवेट सिक्‍यूरिटी गार्ड हटा दिए गए। अपनी मांगों के समर्थन में आंदोलन पर डटे गृह रक्षकों को सरकार ने इस बारे में आश्वासन दिया था। इसके बाद हेमंत सरकार ने होम गार्ड की बहाली के लिए आदेश जारी कर दिया।

झारखंड के गृह कारा एवं आपदा प्रबंधन विभाग की ओर से जारी किए गए आदेश के मुताबिक मंगलवार को राज्य सरकार के सभी महत्‍वपूर्ण विभागों में सुरक्षा के लिए तैनात किए गए प्राइवेट सिक्‍यूरिटी गार्ड को वापस बुला लिया गया है। इनके स्थान पर आज से ही गृह रक्षकों को रोस्‍टर के हिसाब से ड्यूटी दी जा रही है। प्रदेश के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के निर्देश पर गृह विभाग ने सरकार कार्यालयों में होम गार्ड की तैनाती आदेश सभी 24 जिला के उपायुक्तों को दिया है।

इस आदेश में कहा गया है कि झारखंड सरकार ने अपने किसी भी विभाग में सुरक्षा कार्य के लिए लगे निजी सुरक्षा गार्ड को हटाने का फैसला किया है। यहां अब होम गार्ड तैनात होंगे। अब गृह रक्षक सरकार की सुरक्षा करेंगे। इस बारे में सभी अपर मुख्य सचिव, सभी प्रधान सचिव, सचिव, सभी विभागाध्यक्ष, सभी आयुक्त को भी सरकार के स्‍तर से अवगत करा दिया गया है।

बता दें कि झारखंड के होम गार्ड, गृह रक्षक पिछले कई दिनों से अपनी मांगों के समर्थन में राजधानी रांची में जोरदार आंदाेलन कर रहे थे। हक-हकूक के लिए आर-पार की इस लड़ाई में आखिर होम गार्ड की जीत हुई। अब सरकारी कार्यालयों में तैनाती आदेश के बाद उनसे काम नहीं लिए जाने वाली स्थिति खत्‍म हो गई है। काम के आधार पर भुगतान पाने वाले होम गार्ड अब इसके चलते आर्थिक संकट में भी नहीं फंसेंगे। सरकार ने अब उनकी मांगें मान ली हैं, ऐसे में अब इस सरकारी आदेश के बाद राज्‍य का कोई गृह रक्षक बेकार नहीं बैठेगा।

होमगार्ड धरना स्थल पर मारपीट का आरोप गलत

झारखंड रक्षा वाहिनी स्वयंसेवक संघ की केंद्रीय समिति की आपातकालीन बैठक वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये शशि भूषण पांडे के नेतृत्व में हुई। संघ के महासचिव लालाराम, प्रभाकर दुबे, कार्यकारी अध्यक्ष रणधीर सिंह, उपाध्यक्ष हरि भूषण शर्मा, संगठन सचिव राम नारायण सिंह, सचिव कृष्ण नंदन राय आदि इस मीटिंग में जुड़े हैं। मीटिंग में चर्चा की गई थी। होमगार्डों के वेलफेयर संघ के महासचिव राजीव तिवारी ने आरोप लगाया है कि उनके धरना स्थल पर आकर झारखंड रक्षा वाहिनी स्वयंसेवक संघ के बोकारो शाखा के उपाध्यक्ष गुड्डू कुमार ने मारपीट की। गाली गलौज की। शशि भूषण पांडेय ने कहा कि यह आरोप बिल्कुल बेबुनियाद है। राजीव तिवारी का हमेशा आरोप लगाने का काम रहता है

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप