रांची, राज्य ब्यूरो। राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) में चिकित्सकों तथा तृतीय व चतुर्थ श्रेणी के पदों पर हो रही नियुक्ति पर स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी द्वारा रोक लगाए जाने तथा संबंधित फाइल तलब किए जाने के बाद प्रबंधन रेस हो गया है। रिम्स निदेशक डॉ. डीके सिंह ने स्वास्थ्य मंत्री के आदेश का हवाला देते हुए संस्थान के डीन सह चयन समिति की अध्यक्ष डॉ. मंजू गाड़ी से नियुक्ति से संबंधित पूरा ब्योरा तलब किया है। उन्होंने पूरी जानकारी सहित दस्तावेज शीघ्र उपलब्ध कराने को कहा है, ताकि इससे संबंधित रिपोर्ट मंत्री को समय पर दिया जा सके। 

रिम्स निदेशक ने चयन समिति की अध्यक्ष को विभिन्न पदों की रोस्टर की स्थिति, विज्ञापन जिसमें पदों की संख्या का उल्लेख हो, स्क्रूटनी समिति का पदवार स्क्रूटनी करने का आधार, दिए जानेवाले अंकों का विभाजन, आरक्षण के अनुपालन की स्थिति, अभ्यर्थी किस राज्य के हैं आदि का पूरा ब्योरा प्रमाण के साथ देने को कहा है। निदेशक ने चयन समिति द्वारा उनके समक्ष प्रस्तुत की गई मेधा सूची की छायाप्रति आदि भी देने को कहा है। बता दें कि विभागीय मंत्री ने शासी परिषद के अनुमोदन के बिना नियुक्ति पत्र जारी नहीं करने का आदेश दिया है।

शिकायत मिलने पर की कार्रवाई : मंत्री

स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी ने कहा है कि नियुक्ति में अनियमितता की उन्हें शिकायत मिली थी, जिसके बाद उन्होंने यह कार्रवाई की। उनके अनुसार, यदि फाइल देखने के बाद नियुक्ति में गड़बड़ी पाई जाती है, तो नियुक्ति प्रक्रिया रद की जाएगी तथा दोषी लोगों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी। नियुक्ति प्रक्रिया सही पाए जाने पर शासी परिषद के अनुमोदन के बाद चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र दिया जाएगा।

Posted By: Alok Shahi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस