रांची, [शक्ति सिंह]। रांची जिला प्रशासन ने वैसे लोगों को चिह्नित किया है जो दूसरे राज्यों से रांची आए हैं। प्रशासन ने अब उनके घरों को ही क्वारंटाइन करने का फैसला लिया है। रांची जिले के 14 प्रखंडों में ऐसे 727 घर हैं। इन घरों में रहने वालों की संख्या करीब 3635 बताई जा रही है। इसे देखते हुए प्रशासन ने 727 घरों के एक किमी के दायरे तक सैनिटाइज करने का निर्देश दिया गया है। इन एक किलोमीटर के दायरे में करीब 21810 घर हैं। इनमें रहने वालों की संख्या 109050 है जिन्हें सैनिटाइजेशन का फायदा मिलेगा। एक निश्चित सीमा तक सैनिटाइज करना है।

इन-इन प्रखंडों में इतने घर चिह्नित

होम क्वारंटाइन के लिए 727 घरों को चिह्नित किया गया है। अनगड़ा में 40 घर, बेड़ों 36, बुंडू 25, चान्हो 63,  कांके 50, लापुंग 50, मांडर 44, नामकुम 52, ओरमांझी 33, रातू 51, सिल्ली 143, सोनाहातू 69 और तमाड़ 31 घर।

पांच-पांच दिनों तक इन घरों को सैनिटाइज किया जाएगा 

सभी चिह्नित घरों को पांच-पांच दिनों तक घर के अंदर और बाहर सैनिटाइज किया जाएगा। इसके बाद घर से एक किलोमीटर के दायरे तक छिड़काव किया जाएगा। इसके लिए 75 स्प्रे स्क्वॉयड की सेवा ली जाएगी।

मजदूरों को दिया जाएगा खास प्रशिक्षण

सैनिटाइज के दौरान सुरक्षा मानकों का ख्याल रखा जाएगा। इसके लिए संबंधित कर्मियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा, ताकि सुरक्षा मानकों का ख्यान रखते हुए छिड़काव किया जाए। छिड़काव दल के साथ सुपरवाइजर एवं अन्य स्वास्थ्य कर्मियों को नियुक्त किया जाएगा, जो वहां पर कोरोना वायरस के लिए सर्विलांस और सुपरविजन करेंगे। यदि इस बीच संदिग्ध मरीज मिलते हैं तो उन्हें अविलंब स्वास्थ्य सेवा देते हुए आइसोलेट करना है। इस संबंध में सिविल सर्जन ने संबंधित स्वास्थ्य केंद्रों के प्रभारियों को दिशा-निर्देश दिए है।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस