जागरण संवाददाता, राची : सोमवार को एयर एशिया के एक व इंडिगो के तीन विमान से कुल 574 यात्री बेंगलुरु, दिल्ली व हैदराबाद से राची पहुंचे, जबकि 342 यात्रियों ने राची से दिल्ली, बेंगलुरु व हैदराबाद के लिए उड़ान भरा। एयर एशिया के बेंगलुरु-राची विमान (आइ51621) से कुल 163 यात्री राची पहुंचे और राची-बेंगलुरु विमान (आइ51622) से 111 यात्रियों ने बेंगलुरु के लिए उड़ान भरा। इसी प्रकार, इंडिगो के दिल्ली-राची विमान (6ई 421) से 178 यात्री राची पहुंचे और राची-दिल्ली विमान (6ई 398) से कुल 123 यात्रियों ने दिल्ली के लिए उड़ान भरा। इंडिगो के हैदराबाद-राची विमान (6ई 981) से 68 यात्री राची पहुंचे और राची-हैदराबाद विमान (6ई 989) से 76 यात्रियों ने हैदराबाद के लिए उड़ान भरा। इसी प्रकार, इंडिगो के दिल्ली-राची विमान (6ई 535) से 165 यात्री राची पहुंचे और राची-दिल्ली विमान (6ई 6184) से 32 यात्रियों ने दिल्ली के लिए उड़ान भरा। एयरपोर्ट निदेशक विनोद शर्मा ने बताया कि फिलहाल मंगलवार को आने वाले विमानों का शिड्यूल प्राप्त नहीं हुआ है। संभवत: मंगलवार की सुबह तक दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद व बेंगलुरु से आने वाले विमानों का शिड्यूल मिलने की संभावना है। : पीपीई पहन दंपत्ति बाहर निकले तो देखने वालों ने कहा, देखिए एलियन आए

जागरण संवाददाता, राची : लॉकडाउन के दो माह बाद सोमवार को एयर एशिया का विमान सुबह 7:35 बजे बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पहुंचा। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए सभी यात्रियों को फेस शील्ड दिए गए थे। एयरपोर्ट टíमनल से यात्रियों को फेस शील्ड पहनकर बाहर निकलते देख किसी ने कहा कि देखो, एलियन आए..। यह सुनते ही यात्री खिलखिलाकर हंसने लगे। इसी बीच यात्री नितेश शर्मा अपनी पत्नी के साथ पीपीई किट पहने बाहर निकले । एयरपोर्ट पर उपस्थित लोगों ने शायद पहली बार किसी यात्री को पीपीई किट पहनकर सफर करते देखा तो अचंभित हो उठे। यात्री नितेश शर्मा ने बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए पीपीई किट पहनना जरूरी समझा, इसलिए मैं और मेरी पत्नी दोनों ने कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए सबसे पहले स्वयं को सुरक्षित किया।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस