रांची, जेएनएन। झारखंड के गढ़वा से बड़ी खबर आ रही है। जहां ट्रक और स्‍कॉर्पियो की आमने-सामने की टक्‍क्‍र में 5 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। जिले के रमना थाना क्षेत्र के परसवान गांव में रविवार की अहले सुबह साढ़े चार बजे भीषण सड़क हादसे में  4 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि एक व्‍यक्ति की मौत इलाज के क्रम में रांची ले जाते समय रास्‍ते में हो गई। यहां तेज रफ्तार स्काॅर्पियो की सामने सा आ रही ट्रक से भीषण टक्कर हो गई। मृतकों में भवनाथपुर से भाजपा प्रत्याशी भानु प्रताप शाही का भांजा प्रशांत सिंह भी शामिल है। स्कार्पि‍यो को गैस कटर से काटकर उसमे फंसे 2 लोगों के शव को निकाला गया।

भाजपा प्रत्याशी भानुप्रताप शाही के भांजा समेत 5 की दर्दनाक मौत

एनएच-75 सड़क में रमना थाना क्षेत्र के परसवान गांव में बिजली सब स्टेशन के निकट रविवार की सुबह करीब साढ़े चार बजे ट्रक और स्कार्पियों के बीच भीषण टक्कर में चार लोगों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। वहीं गंभीर रूप से घायल औरंगाबाद बिहार के अभिषेक सिंह की मौत इलाज के लिए रिम्स रांची ले जाने के दौरान रास्ते में हो गई है। मृतकों में भवनाथपुर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी भानु प्रताप शाही का भांजा सह उत्तर प्रदेश के नगवां प्रखंड के प्रमुख प्रशांत सिंह, उत्तर प्रदेश के राबटर्सगंज निवासी चेतन गिरी, बिहार के रोहतास

जिला के तिलौथू निवासी उमा सिंह, भवनाथपुर थाना क्षेत्र के हरिहरपुर निवासी प्रशांत सिंह उर्फ टिंकू तथा औरंगाबाद, बिहार निवासी अभिषेक सिंह का नाम शामिल है।

भाजपा प्रत्‍याशी भानु प्रताप शाही के भांजा प्रशांत सिंह की फाइल फोटो। प्रशांत उत्‍तर प्रदेश के सोनभद्र के नगमा ब्‍लॉक के भाजपा अध्‍यक्ष थे।

ईवीएम जमा करा लौट रहे थे प्रशांत सिंह

जानकारी के अनुसार प्रशांत सिंह कृषि उत्पादन बाजार समिति गढ़वा परिसर में चुनाव को ले बने वज्रगृह में शनिवार को हुए मतदान के बाद जमा किये जा रहे ईवीएम को सील होने के उपरांत रविवार के अहले सुबह उक्त सभी लोगों के साथ अपने स्कार्पियों से भवनाथपुर लौट रहे थे। गढ़वा से लौटने के दौरान उक्त सभी लोग रमना थाना क्षेत्र के कोरगा निवासी अजय सिंह के यहां चाय पीने के बाद सुबह के करीब 4 बजे भवनाथपुर के लिए चले।

इसी दौरान परसवान गांव में बिजली सब स्टेशन के निकट श्रीबंशीधर नगर की ओर से आ रहे एक ट्रक से इनके वाहन की जोरदार टक्कर हो गई। टक्कर इतनी जोरदार थी कि स्कार्पियों की परखच्चे उड़ गए तथा उसमें सवार प्रशांत समेत चार लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं अभिषेक सिंह गंभीर रूप से घायल हो गया।

स्‍कॉर्पियो का गेट काटकर शवों को निकाला

इस घटना के बाद ट्रक चालक गाड़ी को सड़क से किनारे खड़ा कर वहां से भाग निकला। इसी दौरान उस रास्ते से गुजर रहे एक कंटेनर के चालक ने इसकी सूचना श्रीबंशीधर नगर के एसडीपीओ को दी तथा चक्का खोलने वाला लिफ्टर से स्कार्पियों के गेट का लॉक तोड़कर प्रशांत समेत तीन को गाड़ी से निकाला। तब तक पुलिस वहां पहुंच चुकी थी और प्रशांत समेत गाड़ी से निकाले गये तीन लोगों को सदर अस्पताल भेजा। जहां चिकित्सक ने प्रशांत तथा उमा सिंह को मृत घोषित कर दिया। साथ ही गंभीर रूप से घायल अभिषेक का प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए उसे रिम्स रेफर कर दिया। गाड़ी में फंसे अन्य दो लोगों को गैस कटर के माध्यम से गाड़ी के गेट को काटकर मृत अवस्था में बाहर निकाला गया।

हादसे में भांजे की मौत से सदमे में भानु प्रताप शाही

उक्त दुर्घटना की जानकारी मिलते ही भानु प्रताप शाही तथा इनके पिता व पूर्व मंत्री लाल हेमेंद्र प्रताप देहाती सदर अस्पताल पहुंचे। यहां प्रशांत सिंह समेत मृत अन्य लोगों का शव देखते ही भानु दहाड़ मारकर रोने लगे। वहीं लाल हेमेंद्र प्रताप देहाती बेहोश गए। जैसे-जैसे इस घटना की जानकारी लोगों को मिलती गई, लोगों की भीड़ सदर अस्पताल में जुटने लगी। लोग भानु प्रताप शाही तथा इनके पिता को ढांढस बंधा रहे थे।  सभी मृतकों के शव का पोस्टमार्टम किये जाने की प्रक्रिया शुरू थी।

यह खबर लगातार अपडेट हो रही है। ताजा जानकारी के लिए बने रहें हमारे साथ...

Posted By: Alok Shahi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस