रांची, जासं। भाजपा एसटी मोर्चा के रांची जिलाध्यक्ष 38 वर्षीय जीतराम मुंडा को आज गोली मार दी गई है। इससे उनकी मौत हो गई है। घटना ओरमांझी थाना क्षेत्र के पालू की है। अपराधियों ने जीतराम पर ताबड़तोड़ गोली बरसाई, इसके बाद वे फरार हो गए। गोली मारने के बाद जीतराम को मेदांता अस्‍पताल लाया गया। यहां डॉक्‍टरों ने उन्‍हें मृत घोषित कर दिया। इस घटना में एक कार्यकर्ता राजकिशोर साहू गोली लगने से जख्मी हो गए। उनका इलाज मेदांता में चल रहा है। उनके हाथ में गोली लगी है। इस घटना से इलाके में दहशत व्‍याप्‍त है। पुलिस को इसकी सूचना दी गई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। हत्‍या का कारण अभी तक पता नहीं चल पाया है। जिलाध्‍यक्ष की हत्‍या के बाद से पार्टी के कार्यकर्ताओं में आक्रोश है।

जीतराम मुंडा की फाइल फोटो।

घटना बुधवार की शाम लगभग साढ़े छह बजे की है। बताया गया कि भाजपा एसटी मोर्चा के द्वारा ओरमांझी शास्त्री चौक पर मांडर विधायक बंधु तिर्की का पुतला दहन कार्यक्रम आयोजित किया गया था। जीतराम मुंडा पुतला दहन कार्यक्रम में शामिल होकर राजकिशोर साहू के साथ लौट रहे थे। इसी दौरान वह आर्यन होटल में चाय पीने के लिए रुके। चाय पीने के बाद वह वहां से निकलने वाले ही थे कि तभी बाइक से दो अपराधी आए और जीतराम मुंडा को गोली मार दी।

इस दौरान राजकिशोर साहू को भी गोली लगी। गोली मारने के बाद अपराधी वहां से फरार हो गए। गोली लगने के बाद जीतराम वहीं पर गिर गए। बाद में उन्हें इलाज के लिए ईरबा स्थित मेदांता अस्पताल लाया गया। घटना की जानकारी मिलने पर केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, प्रदेश महामंत्री आदित्य साहू सहित काफी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता हॉस्पिटल पहुंच चुके हैं।

भाजपा नेताओं की प्रतिक्रिया

रांची जिला ग्रामीण एसटी युवा मोर्चा के अध्यक्ष की हत्या पूरी तरह प्रशासनिक विफलता का परिणाम है। पहले से ही जानलेवा हमले की आशंका थी। सूचना पूरे प्रशासनिक अमले को थी। उन्होंने हथियार के लाइसेंस के लिए भी आवेदन दिया था, लेकिन प्रशासन ने न तो उन्हें सुरक्षा उपलब्ध कराई और न ही लाइसेंस दिया। मुख्यमंत्री इस पूरे मामले की जांच कराएं और प्रशासनिक चूक को सार्वजनिक करें। -अर्जुन मुंडा, केंद्रीय मंत्री।

कानून-व्यवस्था की स्थिति चरमरा गई है। जनता की किसी को परवाह नहीं है। ऐसी स्थिति में भी सरकार अपनी पीठ ठोकने के अलावा दूसरा काम नहीं कर रही है। भाजपा अनुसूचित जनजाति जिला मोर्चा अध्यक्ष की हत्या अपराधियों के बढ़े मनोबल को दिखाती है। हम अक्षम सरकार को उखाड़ फेकेंगे। -रघुवर दास, पूर्व मुख्यमंत्री।

Edited By: Sujeet Kumar Suman