गुमला, जासं। जिस कमरे में प्रेमी ने 15 दिन पहले फांसी लगाकर खुदकशी की थी, उसी कमरे में प्रेमिका ने भी दुपट्टा का फंदा बनाकर आत्‍महत्‍या कर ली। एक ही कमरे में 15 दिनों के अंदर दो लोगों द्वारा की गई खुदकशी के बाद गांव में सनसनी फैल गई है। पूरे गांव में दोनों की खुदकशी चर्चा का विषय बना हुई है। मंगलवार की सुबह जब पुलिस ने युवती का शव बरामद किया, तो युवती ने अपनी मांग में सिंदूर लगा रखा था। पुलिस ने शव को फंदे से उतारकर पोस्टमार्टम के लिए गुमला भेज दिया है।

पुलिस के अनुसार भंडार टोली निवासी कुलवंत गोप (26) ने 15 दिन पहले फांसी लगाकर खुदकशी कर ली थी। उसके फांसी लगाने से चैनपुर की केडेंग तेतरटोली निवासी नैंसी खलखो (22) परेशान रहने लगी। क्योंकि वह युवक से प्रेम करती थी। प्रेमी की मौत को नैंसी सहन नहीं कर पाई और उसने सोमवार की रात पड़ोसी के घर में फांसी लगाकर खुदकशी कर ली। नैंसी व उसका प्रेमी दोनों पड़ोस में एक ही मालिक के घर काम करते थे।

इसी बीच दोनों एक दूसरे से प्रेम करने लगे। युवक बैल चराने, खेती बाड़ी में मालिक की मदद करने का काम करता था। नैंसी खाना बनाने का काम करती थी। सोमवार की रात नैंसी ने अपने स्वजनों से कहा कि वह पड़ोस में सोने जा रही है। यह कहकर वह पड़ोसी के घर चली गई। यहां रात में युवती ने अपने माथे में सिंदूर लगाया और खुदकशी कर ली।

सुबह जब मकान मालिक की नींद खुली और वे लोग नैंसी को उठाने के लिए कमरे में गए तो कमरे में युवती को फांसी के फंदे पर लटकता हुआ पाया। इसके बाद घटना की सूचना मकान मालिक ने नैंसी के स्वजनों व पुलिस को दी। घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को फंदे से उतारकर पोस्टमार्टम के लिए गुमला भेज दिया है।

Edited By: Sujeet Kumar Suman