रांची, जासं। राज्य में जल्द मेडिकल प्रोटेक्शन एक्ट लागू किया जाएगा। चार राज्यों से मेडिकल प्रोटेक्शन एक्ट की फाइल मंगाई गई है, जिसकी समीक्षा की जा रही है। इसमें कुछ संशोधन के साथ इस एक्ट को लागू किया जाएगा। उक्त बातें सूबे के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कही। वे झारखंड ऑप्थलमोलॉजिकल सोसायटी की ओर से आवैश्विक महामारी के दौरान अग्रणी भूमिका निभाने वाले नेत्र चिकित्सकों को प्रोत्साहित करने के साथ-साथ पूरे समाज को प्रेरित करने के उद्देश्य से आयोजित कोरोना वॉरियर सम्मान समारोह में बोल रहे थे। उन्होंने यह भी कहा कि यहां के डॉक्टर पर हमले होंगे हैं तो सरकार चुप नहीं बैठेगी।

बता दें कि झारखंड ऑप्थलमोलॉजिकल सोसायटी की ओर से वैश्विक महामारी के दौरान अग्रणी भूमिका निभाने वाले नेत्र चिकित्सकों को प्रोत्साहित करने के साथ-साथ पूरे समाज को प्रेरित करने के उद्देश्य से कोरोना वॉरियर सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता मौजूद थे। इसस पहले उन्होंने कहा कि सोसायटी द्वारा कोरोना के इस वैश्विक संकट काल में अतुलनीय भूमिका निभाई है जिसकी जितनी भी प्रशंसा की जाए वह कम है।

उन्होंने कहा कि कोरोना काल में जब मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ने लगी तब नेत्र चिकित्सकों ने आगे बढ़कर आईसीयू और सीपीयू की जिम्मेदारी संभाली और पूरी तन्मयता के साथ अपना कर्तव्य निभाया। इस अवसर पर डॉ. भारती कश्यप ने कहा कि इस वैश्विक संकट के दौरान पूरी दुनिया के चिकित्सक और स्वास्थ्यकर्मी जहां अपनी जान जोखिम में डाल कर कोरोना संक्रमित मरीजों की सेवा पिछले 2020 से कर रहे है, वहीं समाज मे ऐसे भी लोग है जिन्होंने चिकित्सकों और कर्मियों पर इस महामारी मे भी उनसे अभद्र व्यव्हार किया है। यह बात हम सभी की जानकारी में हैं कि इस कोरोना काल में देश के कई स्थानों पर डाक्टरों के साथ ज्यादती की गई।

उनपर हमले हुए और कई स्थानों पर महिला चिकित्सक भी इसकी शिकार हुई हैं। फिर भी हम बिना रुके बिना थके जनसेवा में लगे रहे। इसलिए इस मंच से हम सरकार से आग्रह करते हैं कि डाक्टरों को एवं चिकित्सा संस्थानों को कानूनी संरक्षण प्रदान करने के लिए कानूनी प्रावधान लाया जाए। जैसा कि देश के विभिन्न राज्यों में पहले से लागू है। साथ ही हम यह भी आग्रह करते हैं कि डाक्टर से मार-पीट के आरोपियों को फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुकदमा चलाकर कड़ी से कड़ी सजा दी जाए। सोसायटी के सचिव डॉ. बिभूति भूषण ने कोरोना वॉरियर सम्मान से सम्मानित हुए सभी नेत्र चिकित्सकों, शहीद हुए चिकित्सकगण एवं पिछली वार्षिक वर्चुअल कांफ्रेंस के गोल्ड मैडल विजेताओं का संक्षिप्त विवरण सम्मान समारोह के दौरान दिया।

45 नेत्र चिकित्सको को मिला कोरोना वॉरियर्स सम्मान

कोरोना काल में अपनी जान की परवाह किये बिना निरंतर कार्य करने वाले नेत्र चिकित्सकों को सवास्थ्य मंत्री के द्वारा प्रशस्ति पत्र, मोमेंटो एवं शाल दे कर सम्मानित किया गया। इस समारोह में कोरोना वॉरियर सम्मान से सम्मानित होने वाले चिकित्सकों में डॉ नागेंद्र पंडित, डॉ. भरत सिंह, डॉ. आशिमा रानी तिग्गा, डॉ. प्रियंका प्रियदर्शी, डॉ प्रीतीश प्रोनोय, डॉ सरवर आलम, डॉ स्मिता आनंद, डॉ तनीषा ओझा, डॉ पिंकी पाल, डॉ. नेहा शिल्पी, डॉ समरीन सरवर, डॉ सरोजिनी मुर्मू, डॉ. बिभा सिंह, डॉ कुमारी रीना सिंह, डॉ विवेक मिश्रा, डॉ शबाज़ हुसैन, डॉ. शक्तिनाथ सिंह, डॉ. पल्लवी पूर्णिमा सिंह, डॉ. आशिता ए.एस., डॉ. सुमन, डॉ पायल मुखर्जी, डॉ जयप्रकाश नरोलिया, डॉ. मृणाल सिंह, डॉ धीरेंद्र कुमार, डॉ सीमा, डॉ दीप्ति तिवारी, डॉ. सुचित्रा कुमारी, डॉ. विजय लक्ष्मी मीणा, डॉ. रूपा एपिल, डॉ. शेफा हबीब, डॉ. तरुणी कुमारी,डॉ. शिरिल संदीप सवाईयान, डॉ अंताभा बंद्योपाध्याय, डॉ आंचल प्रिया, डॉ. एमडी रघीब तौहीद, डॉ अनुपमा, डॉ शुभम हर्ष, डॉ. पल्लवी सिन्हा, डॉ शाजिया तबस्सुम, डॉ. शिल्पा हेमब्रोम, डॉ अभिषेक कुमार सिन्हा, डॉ अर्चना सिन्हा, डॉ. सरोजनी मुर्मू, डॉ. शिल्पा संचिता, डॉ. मयूरी भट्टाचार्य शामिल हैं।

शहीद के परिवार को मिला सम्मान

इस समारोह में कोरोना काल में मरीजों की सेवा करते शहीद हुए नेत्र चिकित्सकों के परिवारों को स्वास्थ्य मंत्री के द्वारा मोमेंटो एवं शाल दे कर सम्मानित किया गया। इन शहीद डॉक्टरों में डॉ. कृष्ण मुरारी शाह, डॉ. सुजीत कुमार पाल, डॉ. चन्द्रिका किशोर ठाकुर शामिल हैं।

बेस्ट वीडियो सत्र के विजेता हुए सम्मानित

झारखंड ओफ्थल्मोलॉजिकल सोसाइटी के द्वारा आयोजित वार्षिक वर्चुअल कांफ्रेंस के मंजुल पन्त बेस्ट विडियो सत्र के विजेता डॉ. राहुल प्रसाद को गोल्ड मैडल से सम्मानित किया गया तथा डॉ. वी. एस. गुप्ता बेस्ट फ्री पेपर के लिए डॉ. बिभूति कश्यप को गोल्ड मैडल से सम्मानित किया गया। झारखंड ओफ्थल्मोलॉजिकल सोसाइटी के वार्षिक वर्चुअल कांफ्रेंस के दौरान इंट्राम्यूरल ओरेशन के लिए डॉ ललित जैन को सम्मानित किया गया। स्वास्थ्य मंत्री के द्वारा झारखंड ओफ्थल्मोलॉजिकल सोसाइटी के निवर्तमान अध्यक्ष डॉ हलीमुद्दीन को शॉल मोमेंटो के साथ सम्मानित किया गया। इस सम्मान समरोह के आमंत्रित अतिथि के रूप में झारखंड आई.एम.ए. के सेक्रेटरी डॉ. प्रदीप कुमार सिंह, कोषाध्यक्ष डॉ. बी. पी. कश्यप, रिम्स नेत्र विभागाध्यक्ष डॉ. राजीव गुप्ता और रांची आई.एम.ए. के प्रेसिडेंट डॉ. शम्भू सिंह मौजूद थे।

Edited By: Vikram Giri