रांची, [फहीम अख्तर]। आपने अलग-अलग शहरों के रेड लाइट इलाके के बारे में बहुत कुछ सुना और देखा होगा। बदलती तकनीक के बीच अब रेड लाइट इलाके का दायरा भी बड़ा हो रहा है। कोलकाता की तरह झारखंड की राजधानी रांची में नया रेड लाइट एरिया तैयार हो रहा। देह व्‍यापार में लगे रैकेट के लोगों की ओर से ग्राहकों को गूगल मैप के जरिए अलग-अलग इलाकों में बने रेड लाइट ए‍रिया तक भेजा जा रहा है। वाट्सएप और इंस्टाग्राम के जरिए ग्राहकों को फोटो भेजने से लेकर कीमतें तक तय हो जाती हैं। इसके बावजूद पुलिस इस कारोबार पर नियंत्रण नहीं कर पा रही है। दरअसल यह पूरा धंधा अब पूरी तरह से ऑनलाइन संचालित हो रहा है। सबसे आश्चर्यजनक पहलू यह है कि शहर के कई पॉश इलाकों में यह कारोबार तेजी से अपने पांव पसार रहा है।

एक के बाद एक हो रही पुलिस छापेमारी के दौरान देह व्यापार से जुड़े नए-नए मामले सामने आ रहे हैं। बताया जा रहा है कि पुलिस से बचने के लिए इस धंधे में लगे लोगों ने डिजिटल मीडिया का इस्तेमाल बढ़ा दिया है। कई बार बीमा एजेंट बनकर तो कई बार प्राइवेट कंपनी के सेक्रेटरी के रूप में खुद की पहचान बताकर भेंट मुलाकात और बातों का दौर चलता है। शहर के अलग-अलग इलाकों में इन लोगों की तरफ से अपने अलग-अलग अड्डे बनाकर रखे गए हैं। कई होटल और गेस्ट हाउस संचालक इस धंधे का हिस्सा हैं। सुविधा और उपलब्धता के अनुसार अलग-अलग दर निर्धारित की गई है।

पुलिस को अपने नेटवर्क से नहीं, धंधे से जुड़े लोगों की आपसी प्रतिस्पर्धा से मिलती है जानकारी

इस धंधे में लगे लोगों के बीच दूसरे कारोबार की तरह ही प्रतिस्पर्धा है। लिहाजा एक-दूसरे को नुकसान पहुंचाने के मकसद से अलग-अलग ठिकानों के बारे में पुलिस को सूचना दी जाती है। बताया जा रहा है कि रांची में देह व्यापार के चार बड़े मास्टरमाइंड हैं। यह पर्दे के पीछे रहकर पूरा खेल खेलते हैं।

देह व्यापार के लिए लड़कियों को पड़ोसी राज्य पश्चिम बंगाल के कोलकाता तथा ओड़िशा के भुवनेश्वर से रांची बुलाया जाता है। डिमांड के अनुसार तस्वीरें दिखाकर सप्लाई भेजा जाता है। रांची के लगभग सभी प्रमुख इलाकों में अलग-अलग लोग इस कारोबार से जुड़े हुए हैं। लॉकडाउन और इसके बाद की अवधि में बिना पूंजी के कमाई का यह सबसे बेहतर जरिया बन गया है। फिलहाल एक हजार से लेकर 15 हजार रुपये तक की कीमत वसूली जाती है। यह सब कुछ समय और चेहरे पर तय होता है।

चुटिया, अरगोड़ा और बूटी मोड में बनाए गए नए अड्डे

देह व्यापार का पूरा नेटवर्क यूं तो रांची शहर के सभी इलाकों में फैला हुआ है लेकिन हाल के कुछ दिनों में चुटिया अरगोड़ा, और बूटी मोड़ जैसे क्षेत्रों में यह ज्यादा सक्रिय हो गया है। ग्राहकों से सब कुछ तय होने के बाद उन्हें लोकेशन सेंड कर दिया जाता है। अड्डे पर पहुंचने में कहीं कोई परेशानी ना हो, इसलिए गूगल मैप का इस्तेमाल किया जा रहा है।

'हमें जैसे ही सूचना मिलती है, इस पर कार्रवाई की जाती है। यह सही है कि हाल के कुछ समय से इस धंधे के तरीके में बहुत परिवर्तन हुआ है। इसपर नजर रखी जा रही है। इस धंधे के सरगना की तलाश की जा रही है।' -सौरभ, सिटी एसपी रांची।

Edited By: Sujeet Kumar Suman