रांची, राज्य ब्यूरो। झारखंड में रिश्तों के खून की अलग-अलग खबरें मिलती रही हैं। एक बार फिर यह राज्य पूरे देश में ऐसी ही वारदात के चलते बदनाम हुआ है। एक बार फिर यहां रिश्तों का खून हुआ है। खूंटी जिले में जहां भोजन के बहाने बुलाकर ससुर ने दामाद सहित तीन लोगों को काटकर दफना दिया, वहीं पश्चिमी सिंहभूम जिले के टोंटो थाना क्षेत्र स्थित बाइहातु गांव में डायन बताकर एक ही परिवार के पांच लोगों की हत्या कर दी गई।

हत्या के आरोपित भी कोई और नहीं, बल्कि चाची ने ही गांव वालों के साथ मिलकर साजिश रची और जमीन हड़पने के लिए पति-पत्नी व तीन बच्चों को मौत के घाट उतारकर शव को दफना दिया। इन दोनों ही घटनाओं ने रिश्ते को कलंकित किया है। खूंटी की घटना में ससुर ने प्रतिशोध में अपने दामाद व उसके दोनों साथियों की हत्या की। यह ससुर अपनी बेटी व बेटी के पुत्र की हत्या से दुखी था।

यह घटना जिले के अड़की थाना क्षेत्र स्थित बीरबांकी गांव की है। उसने भोजन के बहाने अपने दामाद को बुलाया था। दामाद अपने दो साथियों के साथ पहुंचा था। इसके बाद तीनों की सिर काटकर हत्या कर दी गई थी। दूसरी घटना पश्चिमी सिंहभूम जिले के टोंटो थाना क्षेत्र अंतर्गत बाईहातु गांव की है। यहां जमीन हड़पने के लिए रिश्ते की चाची ने ही गांव वालों के साथ मिलकर साजिश रची कि उसका भतीजा कैरा लागुरी का परिवार डायन-बिसाही करता है। इसके बाद एक साजिश के तहत पति-पत्नी व तीन बच्चों की हत्या कर पूरे परिवार का सफाया कर दिया।

खूंटी जिले से ही दूसरी बड़ी खबर है कि यहां जिले के सायको, मारंगहादा व अड़की थाना क्षेत्र में आतंक का पर्याय बने नक्सली हरि सिंह मुंडा उर्फ ओनडो की अज्ञात अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी। रामगढ़ से खबर है कि यहां मोबाइल कंपनी के सेल्समैन बोकारो के कसमार निवासी रंधीर ने ब्लैकमेल से परेशान होकर 23 नवंबर को खुदकुशी की थी। उसे देह व्‍यापार से जुड़ी रांची की युवतियों ने ब्लैकमेल किया था। पुलिस अनुसंधान में इसका खुलासा हो चुका है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021