जागरण संवाददाता, रांची : अग्रसेन पथ स्थित श्रीश्याम मंदिर में बुधवार को विशेष अनुष्ठान होंगे। खाटू में चढ़ाये जाने वाले पावन निशान ( ध्वजा ) की स्थापना-पूजन होगा। श्रद्धालु भक्तिभाव से श्यामबाबा का पूजन करेंगे। श्री श्याम देव की अखंड ज्योत प्रज्वलित कर रातभर संगीतमय संकीर्तन किया जाएगा। श्री श्याम प्रभु को विभिन्न प्रकार के व्यंजनों का भोग अर्पित किया जाएगा। पूजन के बाद 28 फरवरी तक निशान( ध्वजा ) यहीं स्थापित रहेगा।

मान्यता है कि जो भक्त खाटू नहीं जा पाते हैं वो श्याम प्रभु को समर्पित भेंट निशानों के साथ भेजते हैं।

29 फरवरी को श्याम मंडल का जत्था खाटू के लिए होगा रवाना

श्रीश्याम मंडल के 60 सदस्यीय भक्तों का जत्था 29 फरवरी को रांची से खाटू धाम के लिए विदा होंगे। एक मार्च को रींगस पहुंचेगा जहां निशानों ( ध्वजा ) की पूजा के बाद 18 किलोमीटर की यात्रा आरंभ होगी। एकादशी पर श्रीश्याम बाबा का होगा निशान पूजन

जागरण संवाददाता, रांची : विजया एकादशी पर बुधवार को हरमू रोड श्री श्याम मंदिर में श्री श्याम वार्षिकोत्सव सह निशान पूजन एवं संकीर्तन का आयोजन किया जाएगा। श्री श्याम बाबा को रिझाने एवं भक्तों को झूमाने कोलकाता से भजन गायक पारस बगड़िया पहली बार रांची आ रहे हैं।

रात्रि नौ बजे बाबा की दिव्य ज्योत प्रज्जवलित की जाएगी। बाबा को फल, मेवा, दूध, रबड़ी आदि का भोग लगाया जाएगा। भक्तों के बीच भोग प्रसाद बांटे जाएंगे।

25 फरवरी को खाटुधाम के लिए रवाना होंगे श्यामभक्त

राजधानी से श्याम भक्तों का जत्था 25 फरवरी को खाटुधाम के लिए रवाना होंगे। 18 किलोमीटर पैदल यात्रा कर श्री श्याम ध्वजा(निशान)अर्पण करेगे। खाटुधाम में बाबा को निशान ध्वजा अर्पित करने वाले सभी श्रद्धालुगण इस दिन निशान पूजन एवं संकल्प करेंगे। श्याम महोत्सव के प्रचार के लिए प्रचार वाहन रवाना

जासं, रांची : आगामी 22 एवं 23 फरवरी को मेन रोड स्थित श्री श्याम हवेली दुर्गा-बाटी में श्री श्याम निशान अमृत महोत्सव का आयोजन किया जाएगा। इस महोत्सव के प्रचार के लिए मंगलवार को नगर में प्रचार वाहन को रवाना किया गया। श्री श्याम परिवार के अध्यक्ष श्रवण जालान, महामंत्री मंटू जालान, कार्यकारिणी सदस्य किशन गोयल और अमित चौधरी के देखरेख में प्रचार रथ रवाना किया गया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस