रांची, राज्य ब्यूरो। झारखंड अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष मो. कमाल खान ने रविवार को मंत्री, अल्पसंख्यक मामले मुख्तार अब्बास नकवी से मुलाकात की। लगभग आधे घंटे की इस मुलाकात में मो. कमाल ने झारखंड में अल्पसंख्यकों के लिए संचालित योजनाओं की अद्यतन स्थिति की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आलिम-फाजिल की परीक्षा विश्वविद्यालय स्तर पर लिए जाने पर लगभग आम सहमति बन गई है।

अल्पसंख्यकों को आसान शर्तों पर ऋण देने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। छात्रवृत्ति से वंचित अल्पसंख्यक समुदाय के छात्र चिह्नित किए जा रहे हैं। उन्होंने मदरसों के वेतन, अपग्रेडेशन तथा उसकी संबद्धता को लेकर आ रही परेशानियां केंद्रीय मंत्री से साझा की। आयोग के अध्यक्ष से वार्ता के क्रम में केंद्रीय मंत्री ने अल्पसंख्यकों की मौजूदा परेशानियों, भावी योजनाओं तथा आवश्यकताओं पर आधारित विस्तृत रिपोर्ट तलब की।

उन्होंने इस बीच राज्य के अल्पसंख्यक बहुल इलाकों में मल्टी सेक्टोरल डेवलपमेंट प्रोग्राम (एमएसडीपी) के तहत प्राथमिकता आधारित योजनाओं पर फोकस करने की नसीहत दी। साथ ही अल्पसंख्यक युवक-युवतियों के कौशल विकास, उच्च शिक्षा, स्वावलंबन आदि से जुड़ी सीखो कमाओ, पढ़ो परदेश, नई मंजिल, नई उड़ान जैसी योजनाओं के क्रियान्वयन पर जोर दिया।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप