रांची, जेएनएन। रांची के गोंदा थाना क्षेत्र के हातमा बस्ती में जहरीली शराब पीने से सात लोगों की मौत हो गई है। बस्ती के लोगों के मुताबिक मृतकों ने शनिवार को देसी शराब पी थी। शराब पीने के बाद  लोगों की तबीयत बिगड़ने लगी। पहली ही रात में चार लोगों की मौत हो गई, एक-ए‍क कर तीन लोगों की  मौत अस्पताल में होने की बात बताई जा रही है। इसी थाना क्षेत्र में मुख्‍यमंत्री आवास भी है। जहरीली शराब पीने से बीमार फुलमनी देवी की भी सोमवार को मौत हो गयी। वह रिम्स में इलाजरत थी।

एक पर एक सात मौतों के बाद पुलिस-प्रशासन से लेकर सरकार तक सकते में है। आनन-फानन में पूरे घटनाक्रम की जांच के लिए एसआर्इटी का गठन भी किया गया है। इन मौतों के बाद एक साथ पिता-पुत्र की अर्थी उठी है।
मरनेवालों में पारस ठाकुर और पिंटू ठाकुर बाप-बेटे हैं। इधर रिम्‍स में दम तोड़नेवाली फुलमनी देवी को कोई कंधा देने वाला भी नहीं है। उसके पति भोदवा लोहरा अपने रिश्तेदारों को बुलाने वहां से पैदल ही निकले हैं। रिम्स से मृतका का लाश लाने वाला भी कोई नही है।
मरनेवालों में पिंटू ठाकुर , अशोक मिर्धा, विजय मिर्धा, बिल्लू मिर्धा और पारष ठाकुर शामिल हैं। बताया गया कि विजय मिर्धा नगर निगम की ओर से यहां सफाई के लिए लगाया गया था। पुलिस मौके पर पहुंच गई है।जहरीली शराब से गत वर्ष सितंबर की शुरुआत में 22 मौतें हुईं थी। इस वर्ष भी सितंबर के अंत मे यह हादसा हुआ। अभी एक माह पूर्व ही जहरीली शराब कांड का मास्टरमाइंड प्रह्लाद सिंधिया को सुखदेवनगर थाने में दर्ज एक मामले में सजा हुई है।



रांची के हातमा बस्ती में जहरीली शराब पीने से 5 लोगों की मौत का मामला सामने आने और कई लोगों के गंभीर रूप से बीमार होने की जानकारी मिलते हुए प्रशासनिक महकमा में बदहवासी देखी जा रही है। एक ही बस्ती के 5 लोगों की मौत के बाद इलाके में भी दहशत का आलम है। कई परिवार डरे हुए हैं। सूचना पाकर मौके पर डीसी राय म‍हिमापत रे और एसएसपी अनीश गुप्‍ता भी पहुंचे हैं।

उपायुक्त राय महिमापत रे ने कहा कि पूरे मामले की जांच चल रही है। पांच लोगों की मौत हुई है। जिनके बॉडी को पोस्टमाटर्म के लिए रिम्स भेजा गया है। पूरे इलाके में स्वास्थ्य विभाग की ओर से चेकिंग अभियान चलाया जायेगा, ताकि बचे हुए लोगों का सही से इलाज हो सके। एसएसपी अनीश गुप्‍ता ने बताया कि गांव के सभी लोगों की मेडिकल जांच कराई जाएगी। ताकि अन्य लोगों की जिंदगी बच सके।

मरनेवालों में विजय मिर्धा मुख्यमंत्री आवास में नगर निगम की ओर से सफाई कर्मचारी था। मृतक विजय के बेटे अविनाश मिर्धा ने बताया कि उन्‍हें कल सुबह से उल्टी होने लगी थी। पहले सदर अस्पताल ले गया, जहां से रिम्स रेफर कर दिया गया है। बाद में उसे बेहतर इलाज के लिए मेडिका अस्पताल ले गया। जहां इलाज के क्रम में रात में उसकी मौत हो गई। एक मृतक अशोक मिर्धा भी मुख्यमंत्री आवास में नगर निगम की ओर से सफाई कर्मचारी था।

जानकारी के मुताबिक पुलिस ने मृतकों का बॉडी को पोस्टमाटर्म के लिए श्मशान से उठाया। इससे पूर्व बॉडी को जलाने के लिए परिजन श्मशान लेकर आये थे। मिर्धा घाट से 2 बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए ले जाया गया है।


हातमा बस्ती से सभी शवों को पुलिस सुरक्षा में पोर्स्‍टमाटम के लिए रिम्‍स भेजा जा रहा है। सिटी एसपी अमन कुमार, मजिस्ट्रेट धनंजय कुमार, लालपुर इंस्पेक्टर रमोद कुमार सिंह समेत कई अधिकारी मौके पर पहुंचकर जांच कर रहे हैं। इस घटनाक्रम में दो लोग रिम्स में अभी भी इलाजरत हैं। शराब सप्लाई की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है। सिटी एसपी के नेतृत्व में जांच होगी।

हातमा बस्ती में डीसी राय महिमापत रे के निर्देश पर मेडिकल कैम्प लगाया गया है। हातमा बस्ती में पांच लोगों की मौत के बाद एक्टिव हुई उत्पाद विभाग की टीम नकली शराब पकड़ने में जुट गई है। पूरे इलाके में पुलिस जांच अभियान चला रही है। यहां के बच्चन, विनोद मिर्धा और द्वारिका मिर्धा की जांच की गई है।

यह भी पढ़ेंः तब जहरीली शराब ने लील ली थीं 22 जिंदगियां, रातोंरात उजड़ गए थे कई परिवार, काल का महीना था सितंबर ...

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021