रांची, जागरण संवाददाता। बिहार के पूर्व पथ निर्माण मंत्री इलियास हुसैन, उनके पीए शहाबुद्दीन बेग और ट्रांसपोर्टर जनार्दन प्रसाद को कोर्ट ने चार-चार साल की सजा सुनाई है। अलकतरा घोटाला में सीबीआइ के विशेष न्यायाधीश एके मिश्रा की अदालत ने गुरुवार को यह फैसला सुनाया। तीनों अभियुक्तों को भ्रष्टाचार, धोखाधड़ी समेत प्रिवेंशन ऑफ करप्शन (पीसी) एक्ट के तहत दोषी पाया है। चार साल की सजा होते ही यह तय हो गया कि इलियास हुसैन की विधायकी खत्म होगी। इलियास ने डिहरी ऑनसोन से राजद के टिकट पर 2015 में विधानसभा चुनाव जीता है।

अदालत ने इलियास व शहाबुद्दीन बेग को चार-चार लाख रुपये और जनार्दन प्रसाद को छह लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है। जुर्माने की रकम अदा नहीं करने पर पूर्व मंत्री व उनके पीए को एक-एक वर्ष की अतिरिक्त सजा काटने का आदेश दिया गया है। जबकि जनार्दन को डेढ़ वर्ष की अतिरिक्त सजा काटनी होगी। सुनवाई के दौरान तीनों अभियुक्त कोर्ट में मौजूद थे। सजा के बाद सभी को न्यायिक हिरासत में लेकर जेल भेजा गया। वरीय लोक अभियोजक राकेश प्रसाद के अनुसार संबंधित मामला 26 साल पुराना है।

375 मीट्रिक टन अलकतरा बेचने का मामला : संबंधित मामला 375 मीट्रिक टन अलकतरा घोटाला का है। सड़क निर्माण के लिए हल्दिया से 1500 मीट्रिक टन अलकतरा उठाव करने का आदेश रोड कंस्ट्रक्शन गुमला डिवीजन को किया गया था। आर्डर के अनुसार तीन सप्लायरों को ऑर्डर दिया गया था। हल्दिया से 1125 मीट्रिक टन अलकतरा ही गुमला पहुंचा था। बचा हुआ 375 मीट्रिक टन अलकतरा गुमला पहुंचा ही नहीं। इसकी कीमत 18.75 लाख रुपये आंकी गई थी। जांच में पाया गया कि शेष अलकतरा को पूर्व मंत्री और उनके सहयोगियों ने बेच दिया था। यह घोटाला 1992-93 के बीच हुआ था। सीबीआई ने आरसी 4ए-97 के तहत यह मामला दर्ज किया था। सीबीआइ की ओर से दर्ज केस में पूर्व पथ निर्माण मंत्री समेत छह लोगों को आरोपी बनाया गया था।

तीन अभियुक्त बन गए सरकारी गवाह : इस घोटाले में सीबीआइ ने छह अभियुक्तों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी। इनमें तीन सरकारी गवाह बन गए। चार्जशीटेड अभियुक्तों में पूर्व मंत्री इलियास हुसैन, उनके पीए शहाबुद्दीन बेग, जनार्दन प्रसाद, समी अहमद, सुशील कुमार, राम अवतार शामिल हैं। इनमें से समी, सुशील और राम अवतार को सीबीआई ने सरकारी गवाह बना दिया था। शेष तीनों ट्रायल फेस कर रहे थे।

चार मामलों में अभियुक्त हैं पूर्व मंत्री : पूर्व मंत्री इलियास हुसैन और उनके पीए शहाबुद्दीन शेख अलकतरा घोटाले के कुल चार मामलों में अभियुक्त हैं। यह पहला मामला है जिसमें उन्हें सजा सुनाई गई है। तीन मामलों में अभी वे ट्रायल फेस कर रहे हैं।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021