राज्य ब्यूरो, रांची : मुख्यमंत्री रघुवर दास ने मोरहाबादी मैदान में लगाए गए सभी 11 एलइडी स्क्रीन को राज्य के स्थापना दिवस (15 नवंबर) से पूर्व मैदान के आखिरी छोर पर शिफ्ट करने का निर्देश दिया है। साथ ही मैदान को बेहतर तरीके से समतल करने तथा पेवर ब्लॉक का इस्तेमाल कर इसे सुंदर बनाने की नसीहत दी है। उन्होंने कहा है कि मॉर्निग वाक करने वालों को केंद्र में रखकर वहां जागिंग ट्रैक बनाया जाए तथा हरी घासों से मैदान को हराभरा बनाया जाए। मोरहाबादी मैदान को टाइम्स स्क्वायर की तर्ज पर संवारने की चल रही नगर विकास एवं आवास विभाग की कवायद का मुख्यमंत्री ने बुधवार को भौतिक निरीक्षण किया। नगर विकास मंत्री सीपी सिंह भी उनके साथ थे।

बताते चलें कि पिछले दिनों मैदान के चारों ओर एलइडी स्क्रीन लगाने के दौरान स्थल चयन पर विशेष ध्यान नहीं दिया गया था। मैदान के अंदर के हिस्से में स्क्रीन लगा दिए जाने से मैदान का आकार छोटा हो गया था। अफसरों ने इस दौरान मैदान में सोलर पैनल के अलावा फिक्स्ड लाइट लगाए जाने, पेड़ों को बेहतरीन लाइटिंग सिस्टम से सजाने आदि की भी जानकारी मुख्यमंत्री को दी। नगर विकास व आवास विभाग के सचिव अजय कुमार सिंह, विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के एमडी राहुल पुरवार, नगर आयुक्त मनोज कुमार के अलावा जुडको के अधिकारी भी मौके पर मौजूद थे।

---

इनसेट

बनेंगी 140 दुकानें, फन जोन और कैंटीन भी होगा

प्रस्तावित टाइम स्क्वायर में 140 दुकानों का निर्माण प्रस्तावित है। दुकानों के निर्माण में आने वाली लागत का 80 फीसद हिस्सा राज्य सरकार तथा 20 फीसद संबंधित दुकानदार वहन करेंगे। मोरहाबादी क्षेत्र में मौजूद सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लाट के निकट वेंडर मार्केट तथा उसके बगल में फन जोन और सफाई कर्मियों के लिए एक कैंटीन बनाए जाने की जानकारी अफसरों ने सीएम को दी।

---

जून तक नागाबाबा खटाल को संवारने का टास्क

मोरहाबादी मैदान के निरीक्षण के बाद विभागीय मंत्री और सचिव ने नागा बाबा खटाल परिसर में हो रहे आधारभूत संरचनाओं का भी निरीक्षण किया। उन्होंने संबंधित संरचना का निर्माण जून तक कर लेने का टास्क अफसरों को सौंपा। इस बीच मंत्री के निर्देश पर सचिव ने सब्जी मंडी में विशेष साफ सफाई का निर्देश नगर आयुक्त को दिया। बताते चले कि नागा बाबा खटाल परिसर में अत्याधुनिक वेजिटेबल मार्केट निर्माण का कार्य प्रगति पर है।

---

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021