रांची, जेएनएन। राजधानी रांची में बुधवार को दो गुटों में संघर्ष के दौरान पत्थरबाजी में कई पुुलिसकर्मी घायल हो गए। पुलिस ने इस मामले में चार लोगों को हिरासत में लिया है। वहीं, पुलिस फायरिंग के विरोध में नगर विकास मंत्री सीपी सिंह धरने पर बैठ गए हैं।

जानकारी के मुताबिक, हरमू रोड स्थित कुम्हार टोली, संग्राम चौक के पास पुराने विवाद को लेकर बुधवार को जमकर बवाल हुआ है। सुबह के समय एक समुदाय के लोग आरोपित की गिरफ्तारी नहीं होने से आक्रोशित मोहल्ले के लोग एकजुट होकर सड़क जाम करने जा रहे थे। इसी दौरान बीच रास्ते में दूसरे समुदाय के लोग अचानक से पथराव करने लगे। देखते-देखते अचानक पूरे इलाके में भगदड़ मच गई। दोनों तरफ से पथराव के साथ-साथ गोली भी चलने की सूचना है।

इस घटना में सुखदेवनगर थाना के पदाधिकारी मुन्ना सिंह और वसीम घायल हो गए हैं। दोनों को इलाज के लिए अस्पताल भेज गया है। वहीं, कोतवाली डीएसपी अजित विमल कुमार के पैर में भी चोट लगी है। जबकि, कोतवाली इंस्पेक्टर श्यामानंद मंडल के दोनों मोबाइल पथराव में टूट गए हैं। सूचना मिलने के बाद सिटी एसपी अमन कुमार अतिरिक्त फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे।

लाठीचार्ज के बाद माहौल हुआ शांत

सिटी एसपी ने मामला शांत करने के लिए लाठीचार्ज का आदेश दिया। वरीय अधिकारी का आदेश मिलने के बाद जवानों ने पथराव करने वालों पर जम कर डंडे बरसाए। इस दौरान चार लोगों को पुलिस ने पथराव मामले में पकड़ा है। चारों को पुलिस में गुप्त स्थान पर रखा है। इसके अलावा दो महिलाओं को भी पुलिस में पकड़ा है।

जानें, क्या है मामला
संग्राम चौक पर मंगलवार को छेड़खानी को लेकर विवाद शुरू हुआ था। विवाद धार्मिक रंग लेने लगा। एक धार्मिक स्थल पर गलत हरकत करने की बात मोहल्ले में फैली और दोनों पक्ष एक-दूसरे के आमने-सामने आ गए थे। दोनों तरफ से लाठी-डंडों से लैस लोग एक-दूसरे से भिड़ गए, लेकिन मौके पर पहुंची पुलिस ने तुरंत मामले को संभाल लिया था। स्थिति को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई थी।

 

पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ कार्यकर्ताओं संग कोतवाली थाने में धरने पर बैठे नगर विकास मंत्री सीपी सिंह।

नगर विकास मंत्री सीपी सिंह ने कहा कि पुलिस की एक तरफा कार्रवाई होने के कारण धरना पर बैठे हैं। इस घटना में शामिल लोग चाहे जिस समुदाय से संबंध रखते हों। पुलिस को सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। समुदाय विशेष को देख कर कार्रवाई न करें। उन्होंने कहा कि पुलिस जब-जब ऐसी एकतरफा कार्रवाई करेगी, सीपी सिंह धरना पर जरूर बैठेंगे।

इस बीच, एसएसपी अनीश गुप्ता कोतवाली थाना में मंत्री सीपी सिंह से वार्ता की। एसएसपी और सिटी एसपी अमन कुमार चैंबर में बैठ कर वार्ता की। मंत्री ने आरोपितों की जल्द गिरफ्तारी की मांग की है। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021