राज्य ब्यूरो, रांची : डिबडीह स्थित वार्ड नंबर-36 का नया टोली शनिवार को अपेक्षाकृत साफ-सुथरा नजर आया। सड़कें साफ-सुथरी थी। रांची नगर निगम के सफाईकर्मियों ने कच्ची-पक्की नालियों में ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव कर रखा था। मुख्यमंत्री रघुवर दास अपने सहयोगी मंत्रियों और वरिष्ठ भाजपाइयों के साथ सुबह 9.30 बजे डिबडीह स्थित कानिर्वाल सभागार पहुंच चुके थे। डीडी नेशनल के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का देश के नाम स्वच्छता का संदेश जारी था। 11.30 बजे जैसे ही प्रधानमंत्री का संबोधन खत्म हुआ, मुख्यमंत्री का काफिला नया टोली की ओर बढ़ चला। हरमू बाईपास से तकरीबन दो किलोमीटर अंदर बसे इस मोहल्ले के बीच मध्य विद्यालय, डिबडीह है। फूलों की पंखुड़ियां लिए स्कूली छात्र-छात्राएं मुख्यमंत्री के स्वागत को कतारबद्ध नजर आई। काफिला लगभग आधा किलोमीटर आगे जाकर रूक गया। पुख्ता सुरक्षा के बीच मुख्यमंत्री अपने सहयोगियों के साथ यहां से पैदल ही मोहल्ले की ओर बढ़े। स्कूल की कुछ बच्चियां भी उनके साथ कदमताल करती दिखीं। लगभग 10 मिनट की पैदल यात्रा के बाद मुख्यमंत्री आयोजन स्थल पर पहुंचे। नया टोली आदिवासी बहुल इलाकों में से एक है। आगंतुकों के स्वागत के लिए बने एक पंडाल में मुख्यमंत्री समेत अन्य अतिथि जमीन पर आसन ग्रहण करते हैं। आदिवासी महिलाएं वार्ड पार्षद सविता कुजूर की अगुवाई में अतिथियों का कांसे की थाली में हाथ पखारकर स्वागत करती हैं। मुख्यमंत्री मोहल्लेवासियों का उत्साह देखकर उत्साहित हैं। वे वादा करते हैं, नया टोली को शीघ्र ही नया रूप दिया जाएगा। जन कल्याणकारी योजनाएं एक-एक घर तक पहुंचेगी। मौके पर ही उपस्थित रांची नगर निगम के सीईओ को उन्होंने मोहल्ले का सर्वे कराकर यह सुनिश्चित करने को कहा कि उज्ज्वला योजना की योग्यता रखने वाले एक-एक परिवार को मुफ्त गैस कनेक्शन दिया जाए। इस बीच उन्होंने 23 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रांची आगमन की जानकारी मोहल्लेवासियों से साझा की। उन्होंने कहा कि 68 लाख में से 57 लाख परिवारों को हेल्थ कार्ड दिया जाएगा। इस कार्ड के जरिए कोई भी गरीब देश के 1300 अस्पतालों में निश्शुल्क इलाज करा सकेंगे। इस कार्यक्रम में आप सभी को आमंत्रित करने हम आए हैं। इस बीच उन्होंने मोहल्लेवासियों से भी एक वादा लिया, कहा कि स्वच्छता के मामले में भी नया टोली टॉप पर हो। उन्होंने कहा कि आदिवासी समाज ऐसे भी सफाई के प्रति जागरूक हैं। थोड़ी और जागरूकता आ जाए तो तस्वीर बदल जाए। उन्होंने कहा कि कुछ शक्तियां जात-पात के नाम पर राज्य में विद्वेष फैलाने में जुटी है, जो हिन्दू-मुस्लिम, आदिवासी-ईसाइयों को लड़ाने का काम कर रही हैं। उन्होंने ऐसे तत्वों से बचने की सलाह दी। इस बीच मध्य विद्यालय, डिबडीह की सातवीं की छात्रा वर्षा उरांव मुख्यमंत्री से हाथ मिलाती है। उसे उम्मीद थी कि मुख्यमंत्री उसके स्कूल आएंगे, पर व्यस्तता के कारण यह संभव नहीं हो सका। मुख्यमंत्री ने वर्षा से हाल चाल पूछा। साथ ही मध्याह्न भोजन आदि की जानकारी ली। इस बीच मोहल्ले के ही तीन बच्चे उनसे मुखातिब होते हैं, जिन्हें मुख्यमंत्री ने दुलारा। इसके बाद हाथों में झाडू थाम मुख्यमंत्री का काफिला मोहल्ले की सांकेतिक सफाई पर निकल पड़ा। मुख्यमंत्री ने इस दौरान गलियों की सफाई भी की, विकास योजनाओं को भी देखा। रास्ते में ही एक तालाब काईयुक्त दिखा, मुख्यमंत्री पल भर के लिए वहां ठहरे, उसकी साफ-सफाई का निर्देश अफसरों को दिया, फिर काफिला आगे बढ़ गया। कार का शीशा उतरा हुआ था, मुख्यमंत्री हाथ जोड़े ग्रामीणों का अभिवादन करते हुए कार्निवाल सभागार की ओर बढ़ गए, वहां भाजपा की कार्यसमिति बैठक चल रही थी।

---

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021