रांची, जेएनएन। राजधानी रांची में हेलमेट चेकिंग के दौरान एक भाजपा कार्यकर्ता और ट्रैफिक पुलिस में भिड़ंत हो गई। मारपीट में भाजपा कार्यकर्ता घायल हो गए, जबकि ट्रैफिक डीएसपी रंजीत कुमार लकड़ा को भी चोट लगी है।

जानकारी के अनुसार ट्रैफिक डीएसपी रंजीत कुमार लकड़ा हर दिन की तरह सुजाता चौक पर वाहनों की ब्लैक फिल्म, बिना हेलमेट-सीटबेल्ट चेकिंग कर रहे थे। उसी दौरान कोकर निवासी भाजपा कार्यकर्ता सोनू मिश्रा स्कूटी पर बिना हेलमेट पहने वहां से गुजर रह थे। जिसे ट्रैफिक के जवानों ने रोका और फाइन कटवाने को कहा। सोनू मिश्रा के पास ड्राइविंग लाइसेंस भी नहीं था। इसी बीच, सोनू वहीं अपनी स्कूटी खड़ा कर बैठ गए और लाइसेंस मंगवाने के नाम पर बैठे रहे।

इस पर पुलिसकर्मियों ने जाम लगने की बात कह हटने के लिए कहा, तो उनसे उलझ गए। यह सुनकर वहां ट्रैफिक डीएसपी रंजीत लकड़ा पहुंचे तो उन्हें वर्दी उतरवाने की धमकी दी। इसके बाद डीएसपी ने सोनू की पिटाई कर दी। अन्य पुलिसकर्मी भी उन पर टूट पड़े। इससे जमीन पर गिर गए। फिर उठाकर पोस्ट के भीतर ले गए, वहां भी जमकर पीटा गया। इससे उनकी आंख के नीचे और शरीर के कई जगहों पर चोट लगी। सड़क पर हंगामा देख वहां चुटिया थाने की पुलिस पहुंची और सोनू को चुटिया थाने ले गई। इस मामले में ट्रैफिक एसपी ने आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज मंगवाया है। हालांकि फोकस ठीक नहीं रहने से फुटेज में घटना ठीक से दिखाई नहीं दे रही है।

थाना पहुंचे भाजपा कार्यकर्ता, पुलिसिया रौब का आरोप
घटना की जानकारी मिलने पर बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता चुटिया थाना पहुंच गए। वहां पुलिस पर रौब दिखाने का आरोप लगाया और हंगामा भी किया। उन्होंने डीएसपी को हटाने और कार्रवाई की मांग की है। कार्यकर्ताओं का कहना था कि पुलिस हेलमेट चेकिंग के नाम पर शोषण कर रही है। वे इस मामले की शिकायत करने एसएसपी, ट्रैफिक एसपी और नगर विकास मंत्री के पास गए थे।

दोनों तरफ से प्राथमिकी के लिए दिया गया आवेदन 
इस मामले को लेकर ट्रैफिक डीएसपी रंजीत कुमार लकड़ा के द्वारा चुटिया थाने में सोनू मिश्रा के खिलाफ प्राथमिकी के लिए आवेदन दिया गया है। जिसमें यह आरोप लगाया गया है कि सोनू मिश्रा ने पुलिसकर्मियों के साथ बदतमीजी और मारपीट की। सरकारी कामकाज में बाधा उत्पन्न किया गया। वहीं, सोनू मिश्रा ने भी ट्रैफिक डीएसपी और अन्य पुलिसकर्मियों के खिलाफ प्राथमिकी के लिए आवेदन दिया है।

'मेरे पास लाइसेंस नहीं था जिसे मैं अपने एक दोस्त से मंगवाने की बात कह कर सड़क के किनारे खड़ा था। इसी बीच ट्रैफिक डीएसपी मौके पर पहुंचे और मारपीट करने लगे। ट्रैफिक डीएसपी ने डंडे से उसके चेहरे पर भी मारा इस दौरान उसकी आख फूटने से बची।'
सोनू मिश्रा, भाजपा कार्यकर्ता

'नियमित चेकिंग के दौरान सोनू बिना हेलमेट के पकड़ा गया। फाइन कटाने की बात कहने पर उलझा और वर्दी उतरवाने की धमकी दी। इसके बाद पुलिसकर्मियों से उलझा मारपीट भी की।'
-रंजीत कुमार लकड़ा, डीएसपी ट्रैफिक रांची।

'दोनों ओर से मर्यादित व्यवहार होना चाहिए। इस मामले की जांच की जाएगी। जांच के बाद दोषी पर कार्रवाई की जाएगी।'
-संजय रंजन सिंह, एसपी ट्रैफिक रांची।

बटन कैमरा चालू नहीं रखने पर जमादार निलंबित
सुजाता चौक पर डीएसपी और भाजपा कार्यकर्ता के बीच मारपीट के दौरान बटन कैमरा चालू नहीं रखने के आरोप में जमादार कमाल खान को सस्पेंड कर दिया गया है। ट्रैफिक एसपी संजय रंजन सिंह ने यह कार्रवाई की है। उन्होंने बताया कि ट्रैफिक जमादारों को ऐसी घटनाओं के लिए ही बटन कैमरा दिया गया है। ताकि बदसुलूकी की घटनाएं कैमरे में कैद हो। कैमरा बंद रखने या नहीं लगाने वाले अन्य पुलिसकर्मियों पर भी कार्रवाई हो सकती है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021