जागरण संवाददाता, रांची : पाकिस्तान को 1965 में सबक सिखाने वाले गाजीपुर के शहीद परमवीर अब्दुल हमीद की 53वां शहादत दिवस हवलदार अब्दुल हमीद चौक काटाटोली में श्रद्धापूर्वक मनाया गया। आयोजन परमवीर अब्दुल हमीद स्मारक समिति ने किया था। श्रद्धांजलि झामुमो सुप्रीमो व पूर्व मुख्यमंत्री शिबू सोरेन, महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष महुआ माजी, अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष मो. कमाल खान, उपाध्यक्ष गुरविन्दर सिंह सेठी, मो. सईद आदि ने दी। सभी ने परमवीर चक्र विजेता की तस्वीर पर पुष्प अर्पित किया। उनकी वीरता को सलाम किया। कमाल खान ने अपने संबोधन में कहा कि हिंदुस्तान की मिट्टी में शहीदों का खून शामिल है। हवलदार अब्दुल हमीद की कुर्बानी को हिंदुस्तान कयामत तक याद रखेगा। अब्दुल हमीद साहब ने कुर्बानी दे कर हिंदुस्तान की आबरू को बचाया। गुरविंदर सिंह सेठी ने कहा कि मुल्क में जब भी युद्ध हुआ देश के हर मजहब के मानने वालों ने अपनी जान पर खेल कर हमें दुश्मनों के नापाक इरादों से बचाया है। इदारे शरिया के सरपरस्त मो. सईद ने कहा कि हमारी संस्था कई वर्षो से यहां कार्यक्रम आयोजित कर रही है। उन्होंने हवलदार अब्दुल हमीद चौक के रख-रखाव एवं सुंदरता के लिए आयोग से अपील की। पुष्पांजलि प्रो. जावेद अहमद, पूर्व विधायक अमित महतो, अनुरुद्ध सिंह, मनोज कुमार ने भी दी। कार्यक्रम को सफल बनाने में अध्यक्ष मुन्ना भाई, उपाध्यक्ष मो आफताब, महासचिव अख्तर हुसैन, तबरेज के अलावा सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

फ्लाइओवर का नाम हमीद के नाम पर हो

चौक एवं निर्माणाधीन फ्लाइओवर का नाम वीर अब्दुल हमीद के नाम पर करने की मांग समिति ने की। सईद ने कहा कि कई बार नगर विकास मंत्री सीपी सिंह, पूर्व महापौर रमा खलखो, महापौर आशा लकड़ा, उप महापौर संजीव विजयवर्गीय ने भी आश्वासन दिया, लेकिन अब तक चौक का सुंदरीकरण नहीं हो पाया। इस क्षेत्र में काटा टोली फ्लाइओवर का निर्माण हो रहा है, चौक का नामकरण हवलदार अब्दुल हमीद के नाम से है इसलिए उम्मीद है कि फ्लाईओवर का नामकरण शहीद परमवीर चक्र विजेता हवलदार अब्दुल हमीद के नाम पर ही होगा।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021