जागरण संवाददाता, रांची : बरसात के आखिरी महीने में कांके डैम के जलस्तर का आंकड़ा पूरी क्षमता को छूने को है। शनिवार को डैम में 26 फीट 9 इंच पानी था जबकि पानी की क्षमता का स्तर 28 फीट है। शहर में जिन अन्य दो डैम हटिया और रुक्का से जलापूर्ति होती है उसकी तुलना में कांके डैम की स्थिति सबसे बेहतर है। ज्ञात हो कि पिछले साल इस समय तक डैम का जलस्तर 28 फीट के पार कर गया था और रेडियल गेट को खोल दिया गया था। हालांकि इस वर्ष भी कांके डैम पानी की उपलब्धता के लिहाज से बेहतर स्थिति में है।

कांके डैम से शहर के करीब 10 प्रतिशत भाग को पानी मिलता है। इससे कांके, कांके रोड का पूरा क्षेत्र और अपर बाजार के कुछ क्षेत्र में जलापूर्ति की जाती है। कांके जलशोध प्लांट के कार्यपालक अभियंता संतोष तिर्की ने कहा कि डैम में पानी की दिक्कत किसी भी साल नहीं हुई है। इस साल भी डैम में पर्याप्त पानी है। हालांकि मौसम विभाग के अनुसार इस माह वर्षा होनी बाकी है। अंदाजा लगाया जा रहा है कि इस वर्ष भी डैम के गेट को खोलने की नौबत आ जाएगी। काई अभी भी बन रही है परेशानी का कारण -

जलस्तर से परे कांके डैम पानी में काई की परेशानी से जूझ रहा है। इंनटेकवेल के चारों ओर हरे रंग की काई घेरा बनाए है जिसमें जलकुंभी के पौधों को देखा जा सकता है। काई को हटाने के लिए रेडिएटर लगे हैं। फिर भी पानी में से दुर्गध दूर नहीं हो पा रहा है। डैम के किनारे काई के होने का असर मत्स्य पालन पर भी पड़ रहा है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021