राज्य ब्यूरो, रांची : मुख्यमंत्री रघुवर दास ने चीन यात्रा के दौरान झारखंड को फूड प्रोसेसिंग क्षेत्र का हब बनाने को लेकर अपनी प्रतिबद्धता दोहराई है। चीन के झेंगझोऊ सिटी स्थित शेनचुवान कंपनी की फूड प्रोसेसिंग यूनिट के भ्रमण के दौरान उन्होंने कंपनी के कार्यो और कार्यप्रणाली की जानकारी ली।

झारखंड से पहुंचे शिष्टमंडल ने कंपनी के चेयरमैन शेन जेमिन के साथ लगभग एक घंटे तक विभिन्न इकाइयों की जानकारी प्राप्त की। फूड प्रोसेसिंग, पैकेजिंग और क्वालिटी टेस्टिंग के प्रक्रियाओं के बारे में उन्हें समझाया गया। 10 हजार लोगों की इस कंपनी के प्लांट में लगभग 8 हजार कर्मी कार्यरत हैं। इसका टर्न ओवर करीब 10 बिलियन यूआन यानि लगभग 10 हजार करोड़ रुपये है। ग्लोबल एग्रीकल्चर एंड फूड समिट के लिए आमंत्रित किया

यहां सीएम रघुवर दास ने कंपनी के चेयरमैन को झारखंड में सब्जियों के उत्पादन और फूड प्रोसेसिंग की संभावनाओं की जानकारी दी। झारखंड की फूड प्रोसेसिंग नीति तथा उद्योगों के लिए जो सुविधाएं झारखंड सरकार दे रही है उसके बारे में भी बताया। कंपनी के प्रतिनिधियों को झारखंड आने का निमंत्रण दिया गया। मुख्यमंत्री ने 29-30 नवंबर को आयोजित होने वाले ग्लोबल एग्रीकल्चर एंड फूड समिट के लिए उन्हें और उनके डेलीगेट्स को आमंत्रित किया। इस दौरान आश्वस्त किया गया कि झारखंड में उन्हें व्यापार के अवसर मिलेंगे और स्थानीय कंपनियों के साथ उनकी मीटिंग कराई जाएगी। इससे निवेश के साथ-साथ तकनीक ट्रांसफर से लेकर तकनीक सहयोग तक की संभावना बनेगी।

कंपनी की ओर से शेन जेमिन ने आश्वस्त किया कि वो भारतीय बाजार का और झारखंड में फूड प्रोसेसिंग की संभावनाओं का अध्ययन करेंगे। शेन जेमिन ने इसके साथ ही कहा कि कंपनी इस पर विचार करेगी कि झारखंड में सब्जियों की प्रोसेसिंग कैसे हो सकती है। इस बैठक के बाद संभावना बनी कि झारखंड में फूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री को बढ़ावा मिल सके। इस दौरे में सीएम का जोर रहा है कि बड़ी कंपनियों का झारखंड में निवेश हो सके।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021