जागरण संवाददाता, रांची : विभिन्न समस्याओं को लेकर मारवाड़ी कॉलेज के इंटरमीडियट संकाय में मंगलवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से जुड़े विद्यार्थियों ने ताला जड़ दिया। सुबह 7.30 बजे तालाबंदी कर कॉलेज प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। कुछ शिक्षकों ने छात्र-छात्राओं को समझाने की कोशिश की, लेकिन ताला नहीं खुला। करीब 11 बजे प्राचार्य डॉ. एएन ओझा के पहुंचने के बाद ताला खुला। संगठन के लोगों ने समस्याओं को लेकर प्राचार्य को ज्ञापन सौंपा। सितंबर तक समस्याओं के समाधान का आश्वासन मिला। एक कक्षा में बैठते हैं 300 विद्यार्थी

अभाविप के कॉलेज अध्यक्ष विपुल मिश्रा ने प्राचार्य से कहा कि आपको 16 अगस्त को समस्याओं की ओर ध्यान दिलाते हुए ज्ञापन दिया गया था। अगस्त माह तक निदान की बात कही थी, लेकिन समस्या जस की तस बनी रही। छात्रों ने कहा कि इंटर की एक ही कक्षा मे 300 से 400 छात्रों को बैठ कर पढ़ने के लिए कहा जाता है। यह बड़ी समस्या है। अलग-अलग सेक्शन किया जाए। यदि रूम की व्यवस्था नहीं हो पा रही है तो कक्षा में स्पीकर की व्यवस्था की जाए। शिक्षकों के लिए हो काउंसिलिंग

छात्रों ने कहा कि कर्मचारियों का व्यवहार छात्रों के प्रति अच्छा नहीं रहता है। शिक्षकों के लिए काउंसिलिंग की व्यवस्था की जाए। इंटर की पढ़ाई अंग्रेजी व ¨हदी दोनों माध्यम में हो। दोनों के लिए अलग-अलग सेक्शन हो। छात्रों से कंप्यूटर साइंस के नाम पर पैसे लिए जाते हैं, लेकिन उसकी पढ़ाई नहीं होती है। मौके पर प्रदेश सह मंत्री आशुतोष सिंह, कृष्णा मिश्रा, रोहित दुबे, विपुल मिश्र, सन्नी साहू, उदित सहित अन्य थे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021