राज्य ब्यूरो, रांची। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के 12 जुलाई को रांची आएंगे। इस प्रस्तावित दौरे को लेकर प्रदेश भाजपा रेस हो गई है। इस दौरान राष्ट्रीय अध्यक्ष रांची में ही एक जनसभा को संबोधित करेंगे और सरकार की चार साल की उपलब्धियां गिनाएंगे। अमित शाह के आगमन को लेकर मंगलवार को मुख्यमंत्री आवास में भाजपा के प्रदेश पदाधिकारियों और मंच-मोर्चा के अध्यक्षों के साथ मुख्यमंत्री रघुवर दास ने लंबी मंत्रणा की। इस दौरान उन्होंने पिछले वर्ष तीन दिवसीय झारखंड प्रवास के दौरान राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा प्रदेश भाजपा को सौंपे गए टास्क की जमीनी हकीकत जानने की कोशिश की।

तब अमित शाह ने बूथ स्तर पर मोटरसाइकिल ग्रुप तैयार करने, एक बूथ 25 यूथ, मठ-मंदिर के पुजारियों को पार्टी से जोड़ने, प्रबुद्ध लोगों के साथ संवाद स्थापित करने तथा नए-नए लोगों को पार्टी में शामिल करने जैसे टास्क प्रदेश भाजपा को सौंपे थे। प्रदेश संगठन महामंत्री धर्मपाल सिंह ने इस दौरान पदाधिकारियों को हर हाल में 12 जुलाई से पहले राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा सौंपे गए टास्क को पूरा करने का निर्देश दिया।

इस बाबत उन्होंने सभी जिला प्रभारियों को दो दिनों तक अपने जिले में प्रवास कर बूथ कमेटी और मोटरसाइकिल वाले कार्यकर्ताओं की सूची तैयार कर प्रदेश को उपलब्ध कराने को कहा। साथ ही, सभी 29 हजार बूथों पर कमेटी का गठन जल्द पूरा करने की बात कही। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ, प्रदेश उपाध्यक्ष प्रदीप वर्मा, हेमलाल मुर्मू, आदित्य साहू, प्रदेश महामंत्री दीपक प्रकाश, अनंत ओझा, प्रदेश मंत्री सुबोध सिंह गुड्डू, नवीन जयसवाल, प्रदेश प्रशिक्षण प्रमुख गणेश मिश्रा आदि ने बैठक में शिरकत की।

मुख्यमंत्री की नसीहत, गांव में अधिक से अधिक समय दें पदधारी
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने पार्टी पदाधिकारियों, मंच और मोर्चा के अध्यक्षों को अधिक से अधिक समय गांवों में देने को कहा। उन्होंने संबंधित पदधारियों को गावों में प्रवास करने तथा राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा दिए गए टास्क पूरा करने, बूथ को मजबूत करने, हर वर्ग के लोगों को पार्टी की विचारधारा से जोड़ने, गांवों में अधिक से अधिक कार्यक्रम करने, जनता के साथ केंद्र और राज्य सरकार द्वारा किए गए कार्यों को साझा करने, नए वोटरों को पार्टी से जोड़ने का अभियान चलाने आदि की नसीहत दी।