नीरज अम्बष्ठ, रांची : राज्य के सबसे प्रतिष्ठित मेडिकल कॉलेज सह अस्पताल राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) में निदेशक की नियुक्ति को लेकर विधि विभाग की टिप्पणी और परामर्श ने राज्य सरकार को परेशानी में डाल दिया है। स्वास्थ्य विभाग निदेशक नियुक्ति को लेकर ऊहापोह में है। इस कारण इस पद के लिए आवेदन मंगाने के बावजूद साक्षात्कार का आयोजन नहीं हो पा रहा है।

दरअसल, विधि विभाग ने इस पद पर बीएचयू के डा. डीके सिंह की नियुक्ति की अनुशंसा के बाद बिना निर्धारित प्रक्रिया पूरी किए नए सिरे से आवेदन मंगा लेने को लेकर गंभीर टिप्पणी कर दी है। विधि विभाग का कहना है कि डा. डीके सिंह की अनुशंसा रद किए बिना ही नए सिरे से नियुक्ति प्रक्रिया शुरू कर दी गई। इसपर मुख्यमंत्री से स्वीकृति भी नहीं ली गई। विधि ने स्वास्थ्य विभाग को सुझाव दिया है कि या तो डा. डीके सिंह पर कोई आरोप नहीं होने तथा बीएचयू से एनओसी मिल जाने पर अनुशंसा के अनुसार उन्हें निदेशक पद पर नियुक्त किया जाए या पिछले विज्ञापन को रद करने के बाद नए सिरे से विज्ञापन जारी कर आवेदन मंगाए जाएं। विधि विभाग ने किसी कारण से डा. डीके सिंह की नियुक्ति नहीं करने पर दूसरे विकल्प डा. तुलसी महतो को नियुक्त करने का भी सुझाव दिया है। इधर, विधि विभाग से फाइल लौटने के लगभग 15 दिन बाद भी विभाग इसपर कोई निर्णय नहीं ले पाया है। हालांकि फाइल उच्च स्तरीय निर्णय के लिए बढ़ा दी गई है। चर्चा है कि विधि विभाग के सुझाव तथा मामला हाई कोर्ट में देखते हुए सरकार डा. डीके सिंह को ही निदेशक पद पर नियुक्ति का विचार कर सकती है। बता दें कि डा. बीएल शेरवाल के सेवा मुक्त होने के बाद से यह पद रिक्त है। वर्तमान में इस पद का प्रभार डा. आरके श्रीवास्तव को दिया गया है।

-----------

क्या है मामला? :

तत्कालीन मुख्य सचिव राजबाला वर्मा की अध्यक्षता वाली चयन समिति ने साक्षात्कार के बाद डा. डीके सिंह की अनुशंसा निदेशक पद पर नियुक्ति के लिए की थी। इस बीच उनकी नियुक्ति को लेकर बीएचयू से एनओसी नहीं मिलने का हवाला देकर नए सिरे से नियुक्ति प्रक्रिया शुरू करते हुए आवेदन मंगा लिए गए। इसके बाद जब नए सिरे से साक्षात्कार के लिए तिथि निर्धारित करने को फाइल वर्तमान मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी को भेजी गई तो उन्होंने फाइल विधि विभाग को भेज दी। इसके बाद विधि विभाग ने उक्त टिप्पणी की।

-----

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021